मैनचेस्टर: कप्तान केन विलियम्सन (148) और अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर (69) ने शानिवार को मुश्किल समय में शतकीय साझेदारी कर न्यूजीलैंड को आईसीसी विश्व कप-2019 के मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ मजबूत स्कोर तक पहुंचा दिया. कीवी टीम इन दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए हुई 160 रनों की साझेदारी के दम पर 50 ओवर खेलने के बाद आठ विकेट खोकर 291 रन बनाने में सफल रही.

 

न्यूजीलैंड को जिस तरह की शुरुआत मिली थी उससे उबर पाना आसान नहीं था. विंडीज ने सात विकेट के नुकसान पर ही अपने दोनों सलामी बल्लेबाजों को खो दिया था. पहले ओवर की पहली ही गेंद पर शेल्डन कॉटरेल ने मार्टिन गुप्टिल को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया. इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर कॉटरेल ने कोलिन मुनरो को भी आउट कर कीवी टीम को परेशानी में डाल दिया. मुनरो भी खाता नहीं खोल पाए. यहां से विलियम्सन और टेलर ने मजबूती से विकेट पर पैर जमाए और फिर 167 के कुल स्कोर तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया. क्रिस गेल ने टेलर को आउट कर इस साझेदारी का अंत किया. टेलर ने 95 गेंदों का सामना कर सात चौके मारे.

टेलर के जाने के बाद विलियम्सन और टॉम लाथम ने टीम का स्कोर 200 के पार पहुंचाया. लाथम हालांकि अपनी पारी को 12 रनों के निजी स्कोर से आगे नहीं ले जा पाए और कॉटरेल का तीसरा शिकार बने. कॉटरेल ने विलियम्सन को 150 का आंकड़ा नहीं छूने दिया और 251 के कुल स्कोर पर उन्हें पवेलियन भेज दिया. विलियम्सन ने 154 गेंदों का सामना किया और 14 चौकों के अलावा एक छक्का मारा. विलियम्सन के जाने के बाद कीवी टीम ने कोलिन डी ग्रांडहोम (16), मिशेल सैंटनर (10) और जिम्मी नीशम (28) के विकेट खोए. विंडीज के लिए कॉटरेल ने चार विकेट लिए. कार्लोस ब्राथवेट ने दो और क्रिस गेल को एक सफलता मिली.