एंटीगा: सीमित ओवर के प्रारूप में दमदार प्रदर्शन करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम की नजर जीत के साथ आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरुआत करने पर होगी. प्रतियोगिता के पहले मैच में भारत का सामना गुरुवार को यहां सर विवियन रिचर्डस स्टेडियम में वेस्टइंडीज से होगा. टेस्ट विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे सात महीने बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलेंगे. उन्होंने हाल ही में वेस्टइंडीज-ए के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया और कप्तान विराट कोहली को उम्मीद होगी कि ये दोनों बल्लेबाज पहले टेस्ट मैच में भी अपने दमदार प्रदर्शन को जारी रखें.

भारतीय टीम फिलहाल, वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर-1 टीम है और शीर्ष पायदान पर अपनी स्थिति को और मजबूत करना चाहेगी. वनडे एवं टी-20 सीरीज में करारी हार झेलने के बाद मेजबान टीम का मनोबल नीचा है. अनुभव भी भारतीय टीम के पक्ष में है. कप्तान विराट कोहली शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. वनडे सीरीज में उन्होंने लगातार दो शतक लगाए हैं. वह टेस्ट मैच में अगर एक और शतक जड़ते हैं तो एक कप्तान के रूप में शतक लगाने के मामले में आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉटिंग की बराबरी कर लेंगे.

कोहली ने भारतीय कप्तान के रूप में कुल 18 टेस्ट शतक जड़े हैं, जबकि पॉटिंग के नाम 19 शतक हैं. मैच से पहले कोहली ने कहा, “खेल बहुत अधिक प्रतिस्पर्धी होने जा रहा है और यह आपके द्वारा खेले जाने वाले टेस्ट मैचों को महत्वपूर्ण बनाता है. विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप सही समय पर उठाया गया सही कदम है.” गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह की मौजूदगी में भारतीय टीम मजबूत नजर आ रही है. इसके अलावा, इशांत शर्मा, उमेश यादव और कुलदीप यादव भी मैच में खेल सकते हैं. इन सभी खिलाड़ियों ने अभ्यास मैच में तीन-तीन विकेट लिए और 11 खिलाड़ियों में शामिल किए जाने की अपनी दावेदारी पेश की.

रविचंद्रन अश्विन भी यहां मैदान पर अपनी उपयोगिता साबित करना चाहेंगे. उन्होंने इसी मैदान पर 2016 में सात विकेट लेने के साथ-साथ एक शतक भी लगाया था. दूसरी ओर, वेस्टइंडीज की टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ पिछली टेस्ट सीरीज में दमदार प्रदर्शन किया था और मेजबान टीम उसी को आगे बरकरार रखना चाहेगी. हालांकि, भारत के खिलाफ वनडे और टी-20 में मिली हार ने उसके सामने कई सवाल खड़े किए हैं.

मेजबान टीम को कप्तान जेसन होल्डर से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी. उन्होंने जनवरी 2018 से अबतक 565 रन बनाने के साथ-साथ 40 विकेट भी लिए हैं. इसके बाद, शाई होप, रोस्टन चेज, शिमरॉन हेटमेयर भी भारत के लिए घातक साबित हो सकते हैं. ब्रायन लारा और रामनरेश सरवन मेजबान टीम के बल्लेबाजों की मदद भी कर रहे हैं.

टीम :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, इशांत शर्मा, मोहम्मद शहीद, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव.

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), क्रेग ब्राथवेट, डैरेन ब्रावो, शमर ब्रूक्स, जॉन कैम्पबेल, रोस्टन चेस, रहकीम कॉर्नवॉल, शेन डाउरिच, शेनन गेब्रियल, शिमरॉन हेटमेयर, शाई होप (विकेटकीपर), केमो पॉल, केमर रोच.