पूर्व रजत पदक विजेता स्वीटी बूरा (75 किग्रा) ने आसान जीत से रूस में जारी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर गई हैं लेकिन नीरज फोगाट (57 किग्रा) को बाहर का रास्ता देखना पड़ा.

Fenesta Open National Tennis Championship: पूनाचा और सौजन्या बने राष्ट्रीय चैंपियन

बूरा ने पहले दौर में मंगोलिया की म्यांगमारजारगल मुंखबाट को 5-0 से हराया और अब उनका सामना वेल्स की दूसरी वरीयता प्राप्त लॉरेन प्राइस से होगा.

फोगाट ने चीन की कियो जीरू के खिलाफ अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया लेकिन जजों की नजर में यह पर्याप्त नहीं था और बंटे हुए फैसले में उन्हें 2-3 से हार झेलनी पड़ी.

बूरा की जीत आसान रही जिसमें उन्होंने सटीक मुक्कों से खुद को बेहतर मुक्केबाज साबित किया. मंगोलियाई मुक्केबाज ने अंतिम तीन मिनट में वापसी के प्रयास किये लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी.

चोटिल ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या 4 महीने तक रहेंगे क्रिकेट से दूर

इससे पहले फोगाट ने भी अच्छा प्रदर्शन किया और वह बेहतर मुक्केबाज नजर आ रही थी. उनकी प्रतिद्वंद्वी तकनीकी रूप से भी कमजोर लग रही थी और उन्हें चेतावनी भी मिली थी लेकिन जजों ने हैरानी भरा फैसला दिया. इससे भारतीय खिलाड़ी निराश दिखी. फोगाट पहली बार विश्व चैंपियनशिप में भाग ले रही थी.

भारतीय दल ने अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) के बेहतर निर्णय सुनिश्चित करने के लिये नए नियमों के तहत आधिकारिक तौर पर फैसले के खिलाफ विरोध दर्ज कर दिया था लेकिन तकनीकी समिति ने उसे नामंजूर कर दिया.