नई दिल्ली : टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा चोट की वजह से क्रिकेट से दूर चल रहे हैं. साहा ने भारत के लिए अब तक 32 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें कई बार प्रभावी प्रदर्शन कर चुके हैं. पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सौरव गांगुली का कहना है कि भले ही साहा फिलहाल क्रिकेट से दूर हैं, लेकिन वो पिछले 5 से 10 सालों में भारत के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं. दिसंबर 2014 में महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद टेस्ट क्रिकेट में भारत की पहली पसंद 34 साल के साहा कंधे की सर्जरी के बाद रिहैबिलिटेशन से गुजर रहे हैं.

गांगुली ने साहा का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘वह लगभग एक साल से टीम से बाहर है लेकिन मुझे लगता है कि वह पिछले 5 से 10 साल में भारत का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर है. उम्मीद करता हूं कि वह जल्द उबर जाएगा.’’

पेट में थी जकड़न, दौड़ कर रन लेने से बचने के लिए हरमनप्रीत कौर ने जड़े आठ छक्के

पूर्व कप्तान गांगुली ने कोलकाता में ‘विकी’ के विमोचन के मौके पर बोल रहा था. यह किताब खेली की एक काल्पनिक कहानी है जिसे वरिष्ठ पत्रकार गौतम भट्टाचार्य ने लिखा है. इस किताब में एक विकेटकीपर के संघर्ष की कहानी लिखी गई है जो जूझने के बाद बड़ी उपलब्धियां हासिल करता है.

वहीं युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने अपने टेस्ट करियर की प्रभावी शुरुआत की और वह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी जाएंगे. पंत के बैकअप के तौर पर पार्थिव पटेल को टीम में जगह दी गई है.

क्रिकेट और विज्ञापनों में संतुलन बिठाना संभव है- विराट कोहली

भारत की ओर से 32 टेस्ट में तीन शतक की मदद से 1164 रन बनाने वाले साहा ने पिछली बार देश का प्रतिनिधित्व इस साल की शुरुआत में केपटाउन टेस्ट के दौरान किया था. ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद भारत को जुलाई 2019 तक कोई टेस्ट नहीं खेलना जिससे बंगाल के इस विकेटकीपर का भविष्य अनिश्चित है.