केपटाउन: विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में दस कैच लेकर एक टेस्ट में सर्वाधिक शिकार का नया भारतीय रिकार्ड बनाया. साहा ने दोनों पारियों में पांच – पांच कैच लिये और इस तरह से वह किसी एक मैच में दस या इससे अधिक कैच लेने वाले दुनिया के पांचवें विकेटकीपर बने.

इंग्लैंड के जैक रसेल और दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम पर एक मैच में 11 . 11 कैच लेने का रिकार्ड है जबकि इंग्लैंड के बाब टेलर और आस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट ने मैच में दस कैच लेने का कारनामा किया है. साहा इस सूची में जुड़ने वाले पांचवें विकेटकीपर हैं.

यह भी पढ़ें: क्रिकेटरों की बीवियों या गर्लफ्रेंड्स की जिम्मेदारी नहीं लेगा BCCI, खुद करना होगा इंतजाम

भारत की तरफ से एक मैच में सर्वाधिक शिकार का रिकार्ड इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर था. उन्होंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2014 में मेलबर्न में नौ शिकार (आठ कैच और एक स्टंप) किये थे. संयोग से यह धोनी का आखिरी टेस्ट मैच भी था. नयन मोंगिया ने भी दो अवसरों पर (दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 1996 में डरबन में और पाकिस्तान के खिलाफ 1999 में कोलकाता में) आठ . आठ कैच लिये थे.

धोनी ने तीन अन्य मैचों में आठ . आठ शिकार किये. आस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में 2008 में उन्होंने सात कैच और एक स्टंप तथा बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में 2010 में और वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में 2011 में छह कैच और दो स्टंप किये थे. साहा ने इस मैच में दस कैच लेकर भारत की तरफ से सर्वाधिक शिकार करने वाले शीर्ष पांच विकेटकीपरों में शामिल हो गये. अपना 32वां टेस्ट खेल रहे साहा के नाम पर अब 85 शिकार (75 कैच, दस स्टंप) दर्ज हैं. उन्होंने फारूख इंजीनियर (46 टेस्ट में 82 शिकार) को पीछे छोड़ा.