नई दिल्ली : चोटिल विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा ने जुलाई में कंधे की सर्जरी के बाद रिहैबिलिटेशन कार्यक्रम पूरा कर लिया है और उन्हें दिसंबर में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में वापसी का भरोसा है. साहा ने कोलकाता में ईस्ट बंगाल टैंट में एक किताब के विमोचन के मौके पर कहा, ‘‘अब मैं काफी बेहतर महसूस कर रहा हूं. मुझे दिसंबर के मध्य में वापसी की उम्मीद है. मैं इसी के अनुसार तैयारी और ट्रेनिंग कर रहा हूं. उम्मीद करता हूं कि मेरा शरीर समय पर उबर जाएगा और मैं खेलने के लिए (रणजी ट्रॉफी) पूरी तरह फिट हो जाऊंगा. मैंने नेट सत्र शुरू किए हैं लेकिन मैं अभी मैच फिट नहीं हूं.’’

दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में साल का पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद साहा को पैर की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण स्वदेश वापस भेज दिया गया था. आईपीएल के दौरान उनके अंगूठे के चोट लगी जिसके कारण वह जून में अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट भी नहीं खेल पाए. लेकिन बाद में पता चला कि उनके कंधे में गंभीर चोट है जिसके लिए उन्हें ब्रिटेन में सर्जरी करानी पड़ी.

INDvsWI: टीम इंडिया प्लेइंग इलेवन में करेगी बदलाव, जानें किन खिलाड़ियों को मिलेगा मौका

भारत ने ऑस्ट्रेलिया में आगामी श्रृंखला के लिए ऋषभ पंत और पार्थिव पटेल को टीम में चुना है. ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद भारत को निकट भविष्य में कोई टेस्ट नहीं खेलना. साहा ने कहा कि उन्हें घरेलू स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करके शून्य से शुरुआत करनी होगी.

गांगुली ने की साहा की तारीफ, बताया टीम इंडिया का बेस्ट विकेटकीपर

उन्होंने कहा, ‘‘सभी को इस क्रम से गुजरना होता है, घरेलू स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करना होता है. आपको वहां मैच फिट होना होगा और फिर चयन का इंतजार करना होगा.’’ साहा ने कहा कि रिहैबिलिटेशन से गुजरना उबाऊ है लेकिन वह मानसिक रूप से प्रेरित हैं. उन्होंने स्वीकार किया ‘‘मैं बचपन से ही सकारात्मक चीजों पर ध्यान देता हूं. बेशक रिहैबिलिटेशन से गुजरना उबाऊ है.’’

बता दें कि साहा ने टीम इंडिया के लिए 46 टेस्ट पारियां खेलते हुए 1164 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 5 अर्धशतक जड़े. साहा का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट स्कोर 117 रन रहा है. उन्होंने 9 वनडे मैच भी खेले हैं. उनके फर्स्ट क्लास करियर पर नजर डालें तो 167 पारियों में 5918 रन बना चुके हैं. इस दौरान साहा ने 13 शतक जब कि 32 अर्धशतक जड़े. साहा का सर्वश्रेष्ठ फर्स्ट क्लास स्कोर नाबाद 203 रन रहा. उन्होंने लिस्ट ए की 88 पारियों में 19 अर्धशतक और 2 शतक की मदद से 2693 रन बनाए.