कोरोना वायरस (coronavirus) महामारी के कारण सभी पुरुष और महिला पेशेवर टेनिस टूर्नामेंट सात जून तक स्थगित कर दिए गए हैं। फ्रेंच फेडरेशन ने पहले ही फ्रेंच ओपन को मई-जून से आगे बढ़ाकर सितंबर-अक्टूबर में आयोजित करने का फैसला किया है। Also Read - VIDEO: कोरोना संकट के बीच दिखा ये नजारा, विधायक ने खुलेआम एएसआई के छुए पैर

एटीपी (ATP) और डब्ल्यूटीए (WTA) ने बुधवार को घोषणा की कि क्ले कोर्ट का पूरा सीजन पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नहीं होगा। इससे एक दिन पहले फ्रेंच ओपन ने घोषणा की थी मई में क्ले कोर्ट पर होने वाला वर्ष का ये दूसरा ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट सितंबर तक स्थगित कर दिया गया है। Also Read - COVID-19: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 116 हुई

एटीपी और डब्ल्यूटीए टूर ने पिछले सप्ताह कहा था कि वो अप्रैल के आखिर या मई के शुरू तक टूर्नामेंटों को निलंबित कर सकता है। Also Read - सबसे पहले रेलवे को हुई थी तबलीगी जमात में कोरोना की जानकारी, ट्रेन में मिले थे मरीज, फिर भी...

मई में नहीं सितंबर में खेला जाएगा फ्रेंच ओपन; US ओपन के शेड्यूल के साथ टकराव

नयी घोषणा के बाद जिन टूर्नामेंट पर असर पड़ेगा में उनमें पुरुष और महिलाओं के मैड्रिड और रोम टूर्नामेंट भी शामिल हैं। जिन टूर्नामेंट को रद्द किया गया है उनमें डब्ल्यूटीए के स्ट्रासबोर्ग (फ्रांस) और रबात (मोरक्को) तथा एटीपी के म्यूनिख, पुर्तगाल, जेनेवा और फ्रांस के लियोन में होने वाले टूर्नामेंट शामिल हैं।

दोनों टूर ने कहा कि आगामी नोटिस तक रैंकिंग जस की तस बनी रहेगी और उसमें कोई बदलाव नहीं होगा। अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ ने अपने निचली श्रेणी के टूर्नामेंट को सात जून तक रद्द कर दिया है।