साउथम्‍पटन के रोस बाउल मैदान पर होने वाले वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship 2021 Final) के फाइनल मुकाबले में किसका गेंदबाजी क्रम बेहतर है इससे लेकर तरह तरह की प्रतिक्रियाए सामने आती रही हैं. इस मामले में ताजा बयान ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान इयान चैपल (Ian Chappell) और स्पिनर शेन वार्न (Shane Warne)  का सामने आया है. उनका मानना है कि भारत की गेंदबाजी न्‍यूजीलैंड के मुकाबले ज्‍यादा संतुलित है.Also Read - Suresh Raina के बाद Ravindra Jadeja ने भी छेड़ा जातीय राग, बोले- Rajput Boy फिर हुए ट्रोल

18 से 22 जून के बीच होने वाले इस मुकाबले के लिए भारतीय स्‍क्‍वाड में पांच तेज गेंदबाज और रवींद्र जडेजा व रविचंद्रन अश्विन के रूप में दो स्पिनर हैं. Also Read - शोएब अख्तर ने बताया, 'विराट कोहली से आगे निकलने' के लिए क्या करें बाबर आजम

इयान चैपल (Ian Chappell) ने कहा, “मैं पहले संस्करण के डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए उत्साहित हूं. यह लड़ाई तेज गेंदबाजों की है. भारत और न्यूजीलैंड के पास मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण है.” Also Read - India tour of England: अभ्यास मैच में चोटिल हुए भारतीय खिलाड़ी; स्क्वाड में केवल 22 फिट क्रिकेटर मौजूद

“टीम इंडिया ज्यादा संतुलित है क्योंकि उसके पास बेहतर स्पिनर हैं और रवींद्र जडेजा जैसे ऑलराउंडर के होने से उसके पास एक से ज्यादा स्पिनर खेलाने के विकल्प रहेंगे.”

श्रीलंका के पूर्व कप्तान माहेला जयवर्धने ने भी भारत का समर्थन किया. जयवर्धने ने कहा, “शीर्ष दो में जगह बनाने के लिए लड़ाई कठिन थी. भारत और न्यूजीलैंड की टीमें संतुलित हैं और दोनों के पास फाइनल मुकाबले को देखते हुए सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण है. मैं भारतीय टीम को थोड़ा ज्यादा आगे देखता हूं लेकिन न्यूजीलैंड की टीम भी हार मानने वालों में से नहीं है.”

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिन गेंदबाज शेन वार्न (Shane Warne) ने कहा, “न्यूजीलैंड की टीम फाइनल में पहुंचने की हकदार थी. इन्होंने पिछले दो वर्षो में बेहतरीन क्रिकेट खेला. मैं हालांकि भारत का साथ दूंगा क्योंकि इस टीम में ज्यादा मैच विनर्स खिलाड़ी है. हालांकि, न्यूजीलैंड को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है और वह भी आसानी से मुकाबला जीत सकती है.”

चैपल (Ian Chappell)  ने कहा, “मैं रिषभ पंत के प्रदर्शन को भी देखने के लिए उत्साहित हूं. वह ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने काफी सुधार किया है. यह देखना दिलचस्प होगा कि कौन सी टीम भारी पड़ेगी.”