भारतीय टीम के स्टार तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championshop Final) के फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड टीम को उसकी पहली पारी में चार करारे झटके देकर उसे भारत पर बड़ी बढ़त लेने से रोक दिया. हालांकि अपनी पहली पारी में 249 रन बनाकर ऑलआउट होने वाली कीवी टीम 32 रन की बढ़त जरूर हासिल की. मैच के 5वें दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने अपनी दूसरी पारी में 2 विकेट गंवाकर 64 रन जोड़ लिए हैं और अब वह 32 रन की बढ़त बना चुका है. हालांकि फिलहाल इस मैच पर न्यूजीलैंड की पकड़ भारत से कुछ ज्यादा दिख रही है.Also Read - IND vs IRE- खेल से ज्यादा खिलाड़ी की सेहत महत्वपूर्ण: हार्दिक पांड्या

भारत को शाम के सत्र में बल्लेबाजी का मौका मिला, जिसमें उसने अपने दोनों सलामी बल्लेबाज गंवाए. साउदी (17 रन देकर 2 विकेट) ने इन दोनों को आउट किया. शुबमन गिल (33 गेंदों पर 8 रन) ने 10 ओवर तक एक छोर संभाले रखा. लेकिन कीवी गेंदबाजों ने दबाव बनाए रखा. गिल आखिर इस दबाव को नहीं झेल पाए और साउदी की आउटस्विंगर पर पगबाधा आउट हो गए. Also Read - IND vs ENG- इंग्लैंड नहीं भेजा एक्स्ट्रा ओपनर तो सिलेक्टर्स पर भड़के Virender Sehwag, बोले- भारी चूक

रोहित शर्मा (81 गेंदों पर 30 रन) ने क्रीज पर पर्याप्त समय बिताया लेकिन वह फिर से बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे. उन्होंने साउदी की सीधी गेंद को खेलने का प्रयास ही नहीं किया और पगबाधा आउट हो गए. Also Read - VIDEO: जो रूट पर चढ़ा ब्रेंडन मैक्‍कुलम का रंग, टेस्‍ट में स्विच हिट लगाकर जड़ा छक्‍का

भारत को यदि मैच को जीवंत बनाये रखना है तो कप्तान विराट कोहली (12 गेंदों पर नाबाद 8) और चेतेश्वर पुजारा (55 गेंदों पर नाबाद 12) को न सिर्फ अपने विकेट बचाये रखना होगा, बल्कि स्ट्राइक रोटेट करके रन गति भी बनाए रखनी होगी. मैच ड्रा होने पर दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित कर दिया जाएगा.

इससे पहले बारिश के कारण पांचवें दिन का खेल भी देर से शुरू हुआ जिसके बाद कीवी बल्लेबाजों ने रक्षात्मक रवैया अपनाया. उसने पहले सत्र में 23 ओवरों में केवल 34 रन बनाए और इस बीच तीन विकेट गंवाए. दूसरे सत्र में उसने अधिक तेजी दिखाई तथा 27.2 ओवर में बाकी पांचों विकेट के एवज में 114 रन जोड़े.

शमी (76 रन देकर 4 विकेट) ने ‘सीम’ का अच्छा इस्तेमाल करके अपनी फुललेंथ गेंदों से बल्लेबाजों को चकमा दिया, जबकि इशांत शर्मा (48 रन देकर 3) ने भी अच्छी गेंदबाजी की. रविचंद्रन अश्विन (28 रन देकर 2) और रविंद्र जडेजा (20 रन देकर 1) ने भी विकेट लिए लेकिन जसप्रीत बुमराह ने निराश किया.

(इनपुट : भाषा)