भारतीय सलामी बल्लेबाज शुबमन गिल (Shubman Gill) को लगता है कि अगर खराब रोशनी की वजह से आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC Final) के तीसरे दिन का खेल समय से पहले खत्म नहीं होता तो टीम इंडिया को और विकेट निल सकते थे।Also Read - WTC Final: भारत-न्यूजीलैंड के बीच WTC फाइनल में बना रिकॉर्ड, क्रिकेट इतिहास में कभी ना हुआ ऐसा

टीम इंडिया के खिलाफ चैंपियनशिप फाइनल के तीसरे दिन न्यूजीलैंड टीम ने डेवोन कॉन्वे की अर्धशतकीय पारी की मदद से 2 विकेट के नुकसान पर 101 रन बना लिए थे। दिन का खेल खत्म होने तक क्रीज पर केन विलियमसन (12) और रॉस टेलर (0) टिके हुए थे। Also Read - तीन भारतीय खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद इंग्लैंड दौरे पर बैकअप भेजेगी BCCI

चूंकि दिन के आखिरी ओवरों के दौरान क्रीज पर नए बल्लेबाज थे, ऐसे में गिल का मानना है कि अगर भारतीय गेंदबाजों को रॉस टेलर के खिलाफ थोड़ी और गेंदबाजी करने का मौका मिलता तो टीम को सफलता मिल सकती थी। Also Read - England vs India: भारत को दूसरा बड़ा झटका, Avesh Khan के बाद ये खिलाड़ी भी टेस्ट सीरीज से बाहर

दिन का खेल खत्म होने के बाद गिल ने कहा, “कॉन्वे का विकेट हमारे लिए बेहद अहम था और मुझे लगता है कि अगर हमें रॉस टेलर को कुछ ओवर करने का मौका मिलता तो हम एक-दो विकेट और ले सकते थे। इससे हमें कल के खेल की शुरुआत में थोड़ी मदद मिलती चूंकि दोनों ही बल्लेबाज क्रीज पर नए थे।”

पहली पारी में 217 रन बनाने के बाद टीम इंडिया तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 116 रन से आगे चल रही है। हालांकि गिल ने माना कि 250 रन का आंकड़ा हासिल कर पाना टीम को बेहतर स्थिति में लाता।

गिल से जब भारतीय टीम के न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछली पांच टेस्ट पारियों में 250 का आंकड़ा पार ना कर पाने का कारण पूछा गया तो उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि पिछले साल हमने न्यूजीलैंड में जो टेस्ट खेले थे, उसके लिए तैयारी करने के लिए हमें पर्याप्त समय नहीं मिला था चूंकि सारा ध्यान वनडे और टी20 पर था। जैसा कि आपने कहा, हम पिछले पांच टेस्ट मैचों में 250 का आंकड़ा नहीं पार कर पाए हैं।”

गिल ने आगे कहा, “इस मैच में भी हम मजबूत स्थिति में थे लेकिन हमने आज कुछ शुरुआती विकेट गंवा दिए। लेकि उम्मीद है कि अगर हमें समय मिला तो अगली पारी में हम 250 रन बनाएंगे।”