भारत को दक्षिण अफ्रीका में आयोजित अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में बांग्लादेश से हार का सामना करना पड़ा. बांग्लादेश ने भारत को बारिश से प्रभावित फाइनल में डकवर्थ लुइस नियम के तहत 3 विकेट से पराजित किया. इस टूर्नामेंट में भारत की ओर से कई खिलाड़ियों का प्रदर्शन सराहनीय रहा.Also Read - प्रचंड फॉर्म में Yashasvi Jaiswal, भारतीय नहीं, बल्कि विदेशी खिलाड़ी को दिया सफलता का श्रेय

सच्चाई तो यह है कि सचिन तेंदुलकर से अपनी प्रशंसा सुन स्तब्ध था: मार्नस लाबुशेन Also Read - Ranji Trophy फाइनल में शतक से चूके यशस्‍वी, बोले- मुझे दबाव में खेलना पसंद है

फाइनल के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने अंडर-19 विश्व कप की अपनी टीम चुनी है जिसमें तीन भारतीय खिलाड़ियों को शामिल किया है. Also Read - Ranji Trophy Final 2022- MP vs MUM: पहले दिन का खेल खत्म, जायसवाल की फिफ्टी- MUM: 248/5

यशस्वी, रवि और कार्तिक त्यागी को मिली जगह 

आईसीसी जिन तीन भारतीय खिलाड़ियों को अपनी टीम में जगह दी है, उनमें सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल, लेग स्पिनर रवि बिश्नोई और तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी शामिल है.

कमेंटेटर इयान बिशप, रोहन गावस्कर और नटाली जर्मनोस सहित ईएसपीएन क्रिकंफो के संवाददाता श्रेष्ठ शाह और आईसीसी रिप्रेजेंटेटिव मेरी गैडबीर की चयन पैनल ने इन खिलाड़ियों का चुनाव किया.

बड़ी बहन की मौत के सदमे के बीच बांग्लादेशी कप्तान ने खेली कप्तानी पारी, बनाया टीम को विश्व चैंपियन

जायसवाल को विश्व कप में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था. उन्होंने फाइनल में 88 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेली थी. जायसवाल ने 133 के औसत से टूर्नामेंट की छह पारियों में 400 रन बनाए.

बिश्नोई ने सर्वाधिक 17 विकेट चटकाए 

वहीं, स्पिनर बिश्नोई ने टूर्नामेंट के छह मैचों में सबसे ज्यादा 17 विकेट हासिल किए. उन्होंने फाइनल में भी 30 रन देकर चार विकेट हासिल किए थे. बिश्नोई के अलावा तेज गेंदबाज त्यागी को भी इसमें जगह दी गई है. त्यागी ने विश्व कप में कुल 11 विकेट चटकाए थे. हालांकि फाइनल में उन्हें कोई विकेट नहीं मिला.

भारत के अलावा विश्व चैंपियन बांग्लादेश के तीन, अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के दो-दो जबकि श्रीलंका और कनाडा के एक-एक खिलाड़ियों को इसमें शामिल किया गया है.

टीम (बल्लेबाजी क्रम के अनुसार) इस प्रकार है :

यश्वस्वी जासवाल (भारत), इब्राहिम जादरान (अफगानिस्तान), रविन्दु रसंथा (श्रीलंका), महमुदूल हसन जॉय (बांग्लादेश), शहादत हुसैन (बांग्लादेश), नईम योंग (वेस्टइंडीज), अकबर अली-कप्तान एवं विकेटकीपर (बांग्लादेश), शफीकउल्लाह गफारी (अफगानिस्तान), रवि बिश्नोई (भारत), कार्तिक त्यागी (भारत), जैडन सील्स (वेस्टइंडीज), अकिल कुमार (कनाडा, 12वें खिलाड़ी के तौर पर).