नई दिल्ली: दिग्गज क्रिकेटर और 1983 की विश्व कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव ने बुधवार को कहा कि वह जब भी सर्वकालिक महान भारतीय एकदिवसीय क्रिकेटरों की टीम बनाएंगे, तो उस में हरफनमौला युवराज सिंह को जरूर जगह मिलेगी.  कपिल देव का कहना है कि वह दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह को भारत की अपनी ऑलटाइम 11 वनडे टीम में जगह देंगे और उन्हें मैदान पर विदाई मिलनी चाहिए.

बता दें कि सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारत के बेहतरीन ऑलराउंडर खिलाड़ियों में शुमार युवराज ने सोमवार को अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्‍यास की घोषणा की थी, जिसके बाद दुनियाभर के खि‍लड़ियों ने उन्हें शुभकामनाएं दी.

भारतीय क्रिकेट टीम को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान नई दिल्‍ली में फैंटसी खेल ‘अपने 11’ के लॉन्च के लिए पहुंचे  थे.  कपिल ने कहा, ” युवराज कमाल के क्रिकेटर थे (हैं) और मैं जब भी भारत के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों की एकदिवसीय टीम बनाऊंगा तो वह उस में जरूर होंगे. भारत को 1983 में पहली बार विश्व चैम्पियन बनवाने वाले इस पूर्व कप्तान ने कहा कि युवराज को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी.

कपिल ने कहा, ”युवराज जैसे खिलाड़ी को क्रिकेट के मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी. कम से कम मैं ऐसा देखना चाहता था. उन्होंने अपने खेल से युवाओं को दीवाना बनाया. हमारे देश को ऐसे नायकों की जरूरत है जो आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित कर सके. उन्हें पता चल सके कि युवराज ने अपनी जिंदगी में क्या झेला है.

भारत के महान कप्तानों में शुमार कपिल ने कहा, ”मैं युवराज को आगे की जिंदगी के लिए शुभकामनाएं देते हूं और उम्मीद करूंगा कि उन्होंने क्रिकेट में जो किया अपनी आने वाली जिंदगी में इससे बेहतर करें.”

भारत की तरफ से वेस्टइंडीज के खिलाफ जून 2017 में अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले युवराज ने सोमवार को मुंबई में संन्यास की घोषणा की. अपने 17 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान उन्होंने 2007 में टी20 विश्व कप और और 2011 में एकदिवसीय विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम में अहम योगदान दिया था.

युवराज ने भारत की तरफ से 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले. उन्होंने टेस्ट मैचों में 1900 और वनडे में 8701 रन बनाए. टी20 अंतरराष्ट्रीय में उनके नाम पर 1177 रन दर्ज हैं.