नई दिल्ली: आईपीएल 2018 का 45वां मैच दिल्ली डेयरडेविल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला गया. फिरोजशाह कोटला में खेले गए इस मैच में दिल्ली को 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में आरसीबी के युवा स्पिन गेंदबाज युजवेन्द्र चहल ने दिल्ली को बड़ा नुकसान पहुंचाया. उन्होंने टीम के ओपनर खिलाड़ी जेसन रॉय और पृथ्वी शॉ को आउट करके की शुरुआत खराब कर दी. चहल ने इन दोनों खिलाड़ियों को बोल्ड कर दिया. Also Read - दिल्ली: राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टरों ने की Covishield की मांग, बोले- 'कोवैक्सीन पर भरोसा नहीं'

Also Read - Virat-Anushka के घर आई नन्ही परी तो Amitabh Bachchan ने क्रिकेट टीम से निकाला गजब का कनेक्शन, देखें Tweet

दरअसल आरसीबी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया. इस दौरान दिल्ली की तरफ से पृथ्वी और रॉय ओपनिंग करने आए. इस दौरान आरसीबी की ओर से पहले ओवर युजवेन्द्र चहल ने किया. चहल ने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर पृथ्वी को पवेलियन भेज दिया. वहीं इसके ठीक बाद उन्होंने अपने दूसरे ओवर में जेसन रॉय को बोल्ड कर दिया. पारी का तीसरा ओवर भी चहल कर रह थे. उन्होंने इस ओवर की चौथी गेंद पर रॉय को आउट किया. पृथ्वी और रॉय का आउट होना दिल्ली के लिए बहुत बड़ा नुकसान रहा. Also Read - SC ने यमुना नदी में प्रदूषण पर लिया संज्ञान, हरियाणा सरकार से जवाब- तलब किया

विराट कोहली ने डिविलियर्स के बारे में कही भावुक कर देने वाली बात, RCB के फैन हैं तो जरूर पढ़ें

देखें वीडियो :

गौरतलब है कि चहल ने इस सीजन के अधिकतर मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने इस सीजन के 11 मैचों में 10 विकेट लिए हैं. इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 22 रन देकर 2 विकेट लेना रहा है. इससे पहले वो आईपीएल 2017 में भी अच्छी गेंदबाजी कर चुके हैं. उन्होंने उस सीजन के 13 मैचों में 14 विकेट अपने नाम किए थे. सीजन 2017 में चहल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 16 रन देकर 3 विकेट लेना रहा था.

अब IPL प्लेऑफ की टाइमिंग को लेकर BCCI और सीओए में मतभेद

बता दें कि दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में खेले गए इस मुकाबले में दिल्ली ने रिषभ पंत की अर्धशतकीय पारी की बदौलत 4 विकेट खोकर 181 रन बनाए. इसके जवाब में उतरी आरसीबी ने 19 ओवर में 5 विेकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया. इस मुकाबले में चहल ने 4 ओवर में 28 रन देकर 2 विकेट झटके. वहीं आरसीबी के दूसरे गेंदबाज मोईन अली और मोहम्मद सिराज को भी एक-एक सफलता हाथ लगी.