भारतीय टीम मैनेजमेंट पिछले कुछ समय सीमित ओवर फॉर्मेट में अपने दोनों रिस्ट स्पिनर्स- कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) और युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) को एक साथ प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं कर रही है। हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) की गैरमौजूदगी के चलते बल्लेबाजी क्रम को अतिरिक्त मजबूती देने के लिए टीम इंडिया दूसरे स्पिन गेंदबाज की जगह ऑलराउंडर को प्राथमिकता दे रही है। ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या आगामी विश्व कप में भी इसी प्लेइंग इलेवन को जारी रखा जाएगा या फिर किसी तीसरे गेंदबाज को मौका मिलेगाAlso Read - LIVE Score Updates SA vs WI, T20 World Cup 2021: वेस्टइंडीज के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करेगी दक्षिण अफ्रीका

हालिया अंडर-19 विश्व कप टूर्नामेंट में सफलता के बाद लेग स्पिनर रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) को अंतरराष्ट्रीय टीम में मौका मिलने की चर्चा हो रही है। हालांकि सीनियर खिलाड़ी हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) का कहना है कि बिश्नोई के भारतीय टीम में शामिल होने में अभी समय है और फिलहाल चहल ही टी20 विश्व कप के लिए टीम की पहली पसंद होंगे। Also Read - सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में महाराष्ट्र की कप्तानी करेंगे CSK के रुतुराज गायकवाड़

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए बयान में हरभजन ने कहा, “आईपीएल प्रदर्शन चयनकर्ताओं पर गहरा प्रभाव डालेगा। राष्ट्रीय टीम में शामिल होने के लिए इन खिलाड़ियों को अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा। चाहे वो चहल हो, बिश्नोई हो या राहुल चाहर। आखिरी में बात इसी पर आएगी कि कौन दबाव को सबसे अच्छी तरह झेल सकता है।” Also Read - भारतीय कप्तान विराट कोहली की खेल भावना से प्रभावित हुईं पाकिस्तान की पूर्व क्रिकेटर सना मीर

अंडर-19 विश्व कप फाइनल के दौरान कोड ऑफ कंडक्ट तोड़ने पर पांच खिलाड़ियों को मिली सजा

हरभजन ने आगे कहा, “चहल ने खुद को साबित किया है और अब नए खिलाड़ी ऐसे किसी के साथ प्रतिद्वंदिता कर रहे हैं जो कि खुद को इस स्तर पर साबित कर चुका है। उन्हें यूजी से दोगुना बेहतर प्रदर्शन करके दिखाना होगा। चहल ने विश्व कप स्क्वाड में शामिल होने के लिए मजबूत पक्ष रखा है। मुझे लगता है कि वो पहली पसंद होगा।”