पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का कहना है कि टेस्ट कप्तान के तौर पर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को मिली सफलता के पीछे तेज गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan) का हाथ है। गंभीर ने जहीर को भारत का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बताया। Also Read - IPL 2020 : कोरोना टेस्ट में पास हुए MS Dhoni, कंडीशनिंग कैंप के लिए शुक्रवार को पहुंचेंगे चेन्नई

क्रिकेट कनेक्टेड शो के दौरान गंभीर ने कहा, “टेस्ट क्रिकेट में धोनी के इतने सफल कप्तान बनने का कारण जहीर खान हैं। वो धोनी को मिला ये उसकी खुशकिस्मत थी, जिसका श्रेय गांगुली को जाता है। मेरे हिसाब से ज़हीर भारत के सर्वश्रेष्ठ विश्वस्तरीय गेंदबाज़ रहे हैं।” Also Read - Dhoni की तरह Helicopter Shot लगाने में माहिर 7 साल की बच्ची का Video Viral, दिग्गजों ने सराहा

गंभीर ने ये भी कहा कि धोनी के गांगुली के मुकाबले ज्यादा आईसीसी टूर्नामेंट जीतने का कारण है उन्हें मजबूत टीम मिलना। Also Read - IPL 2020: यूएई रवाना होने से पहले एमएस धोनी ने कराया कोविड-19 टेस्ट

पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा, “धोनी बहुत भाग्यशाली कप्तान रहे हैं क्योंकि उन्हें हर फॉर्मेट में एक अद्भुत टीम मिली थी। 2011 का विश्व कप टीम धोनी के लिए बहुत आसान था क्योंकि हमारे पास सचिन, सहवाग, खुद, युवराज, यूसुफ, विराट जैसे खिलाड़ी थे, इसलिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ टीम मिली थी, जबकि गांगुली को इसके लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी थी, और परिणामस्वरूप धोनी ने इतने सारे ट्राफियां जीतीं।”

जहीर ने धोनी की कप्तानी में कुल 33 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 123 विकेट लिए। धोनी की कप्तानी में जीते 2011 विश्व कप में भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज जहीर ही थे। उन्होंने 9 मैचों में 21 विकेट लिए थे।