भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान (Zaheer Khan) ने भारत में केवल चुनिंदा ग्राउंड पर टेस्‍ट मैच कराने की वकालत की है. विराट कोहली (Virat Kohli) ने कुछ दिन पहले ही केवल पांच सेंटर पर ही भारत में टेस्‍ट मैच कराने का सुझाव दिया था.

पढ़ें:- IPL2020: विराट कोहली को RCB की कप्तानी दिए जाने पर फैंस बोले-फिर वही गलती

विराट का कहना था कि इंग्‍लैंड में केवल कुछ मैदान पर ही टेस्‍ट क्रिकेट खेला जाता है. कुछ इसी तरह की परंपरा भारत में लाए लाने की मांग की जा रही है. न्‍यूज एजेंसी आइएएनएस से बातचीत के दौरान जहीर खान ने कहा, “केवल चुनिंदा टेस्‍ट सेंटर पर मैच कराए जाने से चीजें आसान हो जाएंगी. मेरा मानना है कि भारत जैसे बड़े देश में केवल पांच टेस्‍ट सेंटर बनाना ठीक नहीं होगा. इसकी संख्‍या बढ़ाने की जरूरत है.”

जहीर ने कहा, “हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि इन टेस्‍ट सेंटर पर क्रिकेट खेलने की सबसे अच्‍छी सुविधाएं मुहैया कराई जाएं.” भारत-साउथ अफ्रीका टेस्‍ट सीरीज के दौरान बेहद कम संख्‍या में दर्शकों के स्‍टेडियम तक पहुंचने के बाद विराट कोहली ने टेस्‍ट सेंटर की वकालत की थी. टीम में स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) का भी विराट को साथ मिला था.

पढ़ें:- Asian Cricket Council Emerging Teams Cup: अरमान जाफर के शतक पर भारी पड़ा शंटो और सरकार का अर्धशतक

जहीर खान ने साफ किया कि टेस्‍ट क्रिकेट को फिलहाल कोई खतरा नहीं है. टेस्‍ट क्रिकेट का सबसे शुद्ध फॉर्मेट है जो लंबे समय से चला आ रहा है. हर खिलाड़ी क्रिकेट को इंज्‍वाय करना चाहता है. टेस्‍ट मैच में सर्वश्रेष्‍ठ है क्‍योंकि यहां हर खिलाड़ी को खुद को साबित करना होता है.

जहीर खान ने खेल को फैन्‍स के लिए अधिक दिलचस्‍प बनाए रखने के लिए वनडे और टी20 क्रिकेट में ज्‍यादा से ज्‍यादा ट्राई सीरीज कराने की वकालत भी की. डे-नाइट टेस्‍ट भी क्रिकेट को दिलचस्‍प बनाए रखने की अच्‍छी पहल है.