भारतीय टीम के पूर्व बल्‍लेबाज लालचंद राजपूत (Lal Chand Rajput) मौजूदा वक्‍त में जिम्‍बाब्‍वे की टीम के कोच हैं. अक्‍टूबर-नवंबर में जिम्‍बाब्‍वे के पाकिस्‍तान दौरे (Pakistan vs Zimbabwe) के दौरान राजपूत को पड़ोसी देश का वीजा दिलवा पाना ही इस वक्‍त जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. Also Read - On This Day in 1999 World Cup : तब 12 साल बाद वर्ल्ड कप में हैट्रिक लेने वाले दूसरे गेंदबाज बने थे सकलैन मुश्ताक

जिम्बाब्वे क्रिकेट चाहता है कि उसके कोच औ लालचंद राजपूत भी पाकिस्तान जाएं. इसके लिए जिम्बाब्वे क्रिकेट राजपूत के लिए अलग से वीजा हासिल करने की तैयारी में है. Also Read - पाकिस्तान आखिरी वनडे 131 रन से जीता, जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज पर 5-0 से कब्जा

जिम्बाब्वे को तीन मैचों की वनडे और टी20 सीरीज के लिए अक्टूबर-नवम्बर में पाकिस्तान दौरे पर होगी. यह सीरीज आईसीसी वर्ल्ड कप सुपर लीग का हिस्सा है. वनडे मुकाबले 30 अक्टूबर, 1 और 3 नवम्बर को खेले जाने हैं जबकि टी20 मुकाबले 7,8 और 10 नवम्बर को होने हैं. Also Read - पाकिस्तान ने तीसरे वनडे में जिंबाब्वे को 9 विकेट से हराया, फहीम अशरफ ने झटके 5 विकेट

जिम्बाब्वे क्रिकेट ने कहा है कि राजपूत उसके कोच हैं और वह चाहता है कि वह भी पाकिस्तान दौरे पर जाएं और वह इसके लिए इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तानी अधिकारियों से राजपूत के नाम वीजा जारी करने का अनुरोध करेगा.

राजपूत कोरोना के कारण टीम से नहीं जुड़ सके हैं. वह अभी भारत में ही हैं. राजपूत ने कहा कि वह टीम के साथ जुड़ना चाहते हैं और भारत तथा जिम्बाब्वे के बीच फ्लाइट सेवा शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं.