नई दिल्ली: हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी में लंबे समय से चली आ रही कलह बुधवार को उस वक्त खुलकर सामने आ गई जब पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर और उनके समर्थकों ने बुधवार को पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास के बाहर प्रदर्शन किया तथा पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ नारेबाजी की.

तंवर और उनके समर्थकों ने आरोप लगाया कि टिकट वितरण में भ्रष्टाचार हो रहा है और पार्टी के लिए वर्षों से मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं की अनदेखी की जा रही है. माना जा रहा है कि बहुत जल्द हरियाणा के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची जारी हो सकती है. सोनिया के आवास के बाहर तंवर और उनके सैकड़ों समर्थकों जमा हुए और हुड्डा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

हुड्डा समर्थकों का दावा है कि तंवर की वजह से हरियाणा में कांग्रेस की स्थिति खराब हुई और वह पद से हटाए जाने की नाराजगी के चलते पूर्व मुख्यमंत्री पर आरोप लगा रहे हैं. हरियाणा कांग्रेस में लंबे समय से अंदरूनी कलह की खबरें आ रही थीं. इसी कलह को दूर करने की कोशिश करते हुए कुछ हफ्ते पहले कांग्रेस ने तंवर को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से हटाकर पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा को कमान सौंपी तथा हुड्डा को विधायक दल का नेता एवं चुनाव प्रबंधन समिति का प्रमुख बना दिया.