नई दिल्ली: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के देर रात दिल्ली पहुंचने पर जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने उनसे मुलाकात की. भाजपा और जजपा गठबंधन पर बात होने की संभावना है. ऐसा होने पर शनिवार को सरकार बनाने का दावा पेश किए जाते समय जजपा विधायक भाजपा का समर्थन करते दिखाई देंगे. जननायक जनता पार्टी (जजपा)-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन को लेकर हालांकि अभी कोई कुछ स्पष्ट बोलने को तैयार नहीं है.

दरअसल, जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने जिस तरह से चुनाव के बाद अपने पत्ते नहीं खोले और फिर बाद में शुक्रवार को प्रेसवार्ता में कहा कि उनके लिए कोई अछूता नहीं है, उससे अटकलें लगने लगीं कि भाजपा से बातचीत होने पर वह उसे समर्थन दे सकते हैं.

सूत्र बताते हैं कि इस विधानसभा चुनाव में जजपा को 10 सीटें जिताकर सबको चौंकाने वाले दुष्यंत चौटाला को लगता है कि आगे चलकर उनके विधायक टूट सकते हैं. ऐसे में वह भाजपा से दोस्ती का संकेत मिलने पर उसके साथ जाने पर विचार कर रहे हैं.

भाजपा मुख्यालय पर शुक्रवार को जजपा के साथ गठबंधन को लेकर कुछ नेता अटकलें लगाते रहे. चुनाव नतीजे आने के अगले दिन शुक्रवार को कुछ कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए भाजपा अध्यक्ष शाह गुजरात के दौरे पर थे, देर रात उनके लौटते ही चौटाला अन्य भाजपा नेताओं के साथ अमित शाह से मिलने पहुंच गए. अब देखना ये है कि क्या चौटाला भाजपा खेमे में जाएंगे या कांग्रेस.

(इनपुट-आईएएनएस)