देहरादून: दो दिन पहले मुंबई में कहर बरपाने के बाद बारिश अब उत्तराखंड के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है. मौसम विभाग द्वारा उत्तराखंड में अगले 72 घंटों के दौरान भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. क्षेत्रीय मौसम कार्यालय ने बुधवार को चेतावनी जारी कर राज्य खासकर कुमाऊं क्षेत्र में बारिश के आसार जताए हैं. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मूसलाधार बारिश के गुरुवार से शुरू होकर सप्ताहांत तक जारी रहने की संभावना है.Also Read - MSME Export In Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश में एमएसएमई का निर्यात 38 फीसदी बढ़ा, 3 अरब डॉलर के पार पहुंचा एक्सपोर्ट

पहाड़ी राज्य के कई हिस्सों में बुधवार सुबह से ही आसमान में बादल छाए हुए हैं. गढ़वाल क्षेत्र के रुद्रप्रयाग, पौड़ी और चमोली जिलों में बुधवार शाम से बारिश की संभावना है जबकि नैनीताल, अल्मोड़ा, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में भारी बारिश होने की उम्मीद है. Also Read - गौतम गंभीर की केजरीवाल की अयोध्‍या यात्रा पर तंज- दिल्‍ली के CM राम जन्मभूमि पर पूजा कर अपने पाप धोने का प्रयास कर रहे

राज्य सरकार के अधिकारियों ने कहा कि जिन जिलों में तेज बारिश होने के आसार हैं, वहां पहले ही ऐहितयात के तौर पर सुरक्षा संबंधी उचित व्यवस्था कर ली गई है. नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को बाढ़ जैसी स्थिति में ऊंचे स्थानों पर जाने के लिए कहा गया है. राज्य के पहाड़ी और मैदानी दोनों इलाकों में गर्म हवाएं चल रही है. Also Read - Video: Kanpur Metro ट्रेन आज पहली बार टेस्‍ट ट्रैक पर चलती हुई आई नजर

उत्तर प्रदेश में भी वायुमंडल में चक्रवाती स्थिति की वजह से कई जिलों में बारिश हुई है. इसका असर अभी अगले एक दो दिनों तक रहेगा. मौसम विभाग ने बताया कि मानसून की रफ्तार इस बार तेज रहेगी, ऐसे में 28-30 जून के दौरान महज दो दिनों में मानसून समूचे उत्तर पश्चिमी राज्यों के ज्यादातर हिस्सों में छा जाएगा.