मेरठ: मेरठ नगर निगम में आज शनिवार को एक बार फिर हंगामा हुआ. नगर निगम में बीजेपी और बसपा के पार्षद भिड़ गए. हंगामा तब हुआ जब नगर निगम में बैठक चल रही थी. इसी दौरान किसी बात को लेकर बीजेपी और बसपा के पार्षदों के बीच तनातनी हो गई. पार्षद भीड़ में एक दूसरे को धक्‍का देने लगे. कुछ पार्षद सीटों पर चढ़ गए. काफी देर तक हंगामा चलता रहा. जिससे नगर निगम की बैठक का मकसद प्रभावित हुआ. जब हंगामा हुआ तब स्‍थानीय पत्रकार भी यहां मौजूद थे. यह पूरी घटना कैमरों में कैद हो गई. एएनआई ने इसका वीडियो जारी किया है.

बता दें कि मेरठ नगर निगम में हंगामे का यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी यहां बीजेपी और बसपा के पार्षदों के बीच तनातनी हो चुकी है. जनवरी, 2018 को वंदेमातरम् को लेकर नगर निगम में हंगामा हुआ था. वंदेमातरम् गाए जाने को लेकर बीजेपी और बीएसपी के पार्षद आपस में भिड़ गए थे. निगम की पहली बोर्ड बैठक में बीजेपी के पार्षदों द्वारा राष्ट्रीय गीत का फिल्मी वर्जन चलाया गया था. बीएसपी के पार्षदों ने इसका सख्त ऐतराज जताया. इसके बाद दोनों पार्टी के पार्षदों के बीच हाथापाई की भी नौबत आ गई थी.

ये भी पढ़ें: मेरठ नगर निगम में वंदे मातरम् गाने पर बवाल, BJP-BSP पार्षद भिड़े

मेरठ नगर निगम की बोर्ड बैठक में राष्ट्रगीत वंदेमातरम के गान को लेकर अक्सर बीजेपी के महापौर-पार्षदों और बीएसपी, एसपी आदि अन्य दलों के मुस्लिम पार्षदों में अक्सर टकराव की स्थिति बनती थी. पूर्व में बीजेपी के मेयर हरिकांत अहलूवालिया ने एक बोर्ड बैठक में वंदे मातरम् नहीं गाने वाले पार्षदों की सदस्यता खत्म करने की चेतावनी देते हुए सदन में प्रस्ताव भी पास करा दिया था, जिसे लेकर पूरे प्रदेश में बवाल मचा था.