नई दिल्ली: तमिलनाडु के पुडुकोट्टाई इलाके में एक बेटे ने मां के साथ दरिंदगी की हदें पार कर दी. संपत्ति को लेकर चल रहे झगड़े के बाद बेटे ने अपनी मां की धारदार हथियार से गला काट हत्या कर दी. इसके बाद वह मां का सिर लेकर खुद ही करमबकुदी पुलिस स्टेशन पहुंच गया. यह देख पुलिस भी दंग रह गई. बेटे के हाथों जान गंवाने वाली महिला को उसके पति की हत्या के आरोप में करीब 10 साल पहले बरी किया गया था. पुलिस के मुताबिक आनंद नाम के इस शख्स का अपनी मां से लगातार झगड़ा चल रहा था. झगड़ा संपत्ति को लेकर था. उसकी मां विधवा थी. 30 साल का आनंद पुडुकोट्टाई जिले के करमबकुदी पुलिस स्टेशन इलाके का रहने वाला है. पुलिस के अनुसार रविवार को आनंद कथित तौर पर अपनी मां की हत्या कर उसका सिर लेकर पुलिस स्टेशन आ गया. इससे पुलिस भी सकते में आ गई. Also Read - Inspirational Story : 30 साल की नौकरी में डी सिवन ने किया कुछ ऐसा कि रिटायर होने के बाद सोशल मीडिया में हो गए वायरल, जानें हैरान करने वाली कहानी

Also Read - पिता-पुत्र के पुलिस उत्पीड़न और मौत मामले में नया खुलासा, अस्पताल में ही हो गई थी दोनों की मौत, अब CBI करेगी जांच

बेटे को मां के कैरेक्टर पर था शक, पीट-पीटकर कर दी हत्या Also Read - Video: ई-पास की मांग पर नाराज हुए DMK के पूर्व सांसद, पुलिस पर लात-हाथ से किया हमला

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक आनंद ने पुलिस को बताया कि वह अपनी विधवा मां से संपत्ति को लेकर लगातार झगड़ रहा था. रविवार को झगड़े के बाद उसने घर में धारदार हथियार से मां की गला रेत हत्या कर दी. इसके बाद वह मां का सिर धड़ से अलग कर पुलिस स्टेशन लेकर आ गया और आत्मसमर्पण कर दिया. मारी गई महिला को करीब 10 साल पहले अपने पति की हत्या के आरोप से बरी किया गया था. पुलिस ने बताया कि इस चौंकाने वाले मामले में आनंद को अरेस्ट कर लिया गया है.

मां के साथ इस तरह की बर्बरता की यह पहली घटना नहीं है. इससे पहले अक्टूबार, 2017 में छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में एक युवक ने अपनी मां के चरित्र पर संदेह करते हुए उसकी कथित रूप से हत्या कर दी थी. रायगढ़ जिले के लैलूंगा थाना क्षेत्र के झरन गांव में गुरुवारु कंवर (26) ने अपनी विधवा मां उर्मिला कंवर (46) की शुक्रवार को डंडे से पीट पीटकर हत्या कर दी थी. आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था. इसके साथ ही ऐसे कई मामले सामने आते रहे हैं.