नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को सरदार वल्लभभाई पटेल की 144 वीं जयंती पर गुजरात के केवडिया में स्थित ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बुधवार को जारी एक बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ‘एकता दिवस परेड’ में भाग लेंगे, एक प्रौद्योगिकी प्रदर्शन स्थल का दौरा करेंगे और केवडिया में लोक सेवा के परिवीक्षाधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे.

2014 से हर वर्ष 31 अक्टूबर को ‘राष्ट्रीय एकता दिवस’ के रूप में मनाया जाता है. इस दिन हर वर्ग के लोग ‘रन फॉर यूनिटी’ (एकता दौड़) में भाग लेते हैं. प्रधानमंत्री बुधवार देर शाम यहां पहुंचेंगे और गांधीनगर के राजभवन में रात्रि निवास करेंगे.

राज्य सरकार द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, गुरुवार सुबह प्रधानमंत्री मोदी नर्मदा जिले के केवडिया पहुंचेंगे, जहां वह सबसे पहले सरदार सरोवर बांध के पास स्थित 182 मीटर ऊंची ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ स्थल जाएंगे और भारत के लौह पुरुष को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे.

पीएम मोदी का निवेशकों को भारत में निवेश का न्योता, कहा तेल-गैस क्षेत्र में 100 अरब डालर निवेश की योजना

दुनिया की सबसे ऊंची सरदार पटेल की इस प्रतिमा का उद्घाटन मोदी ने पिछले साल 31 अक्टूबर को किया था. सरदार पटेल को श्रद्धांजलि देने के बाद, वह गुजरात पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र बलों के जवानों के ‘राष्ट्रीय एकता दिवस परेड’ के कार्यक्रम में शामिल होंगे.

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और गुजरात तथा जम्मू-कश्मीर के पुलिस बल के प्रशिक्षित जवान प्रतिमा के पास प्रधानमंत्री के समक्ष कई प्रकार के कौशल का प्रदर्शन करेंगे.

इसके बाद मोदी कार्यक्रम स्थल पर आमंत्रित अतिथियों और लोगों को संबोधित करेंगे. वह अपने भाषण के बाद केवडिया में एक ‘प्रौद्योगिकी प्रदर्शन स्थल’ का भी उद्घाटन करेंगे. दोपहर में वह देश भर के लगभग 450 सिविल सेवा परिवीक्षकों के साथ बातचीत करेंगे. वे केंद्र सरकार के कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के एक फाउंडेशन कोर्स के लिए पिछले एक सप्ताह से केवडिया में हैं.

रियाद में बोले पीएम मोदी- ‘मैं वैश्विक निवेशकों को हमारे स्टार्ट-अप इकोसिस्टम से लाभ उठाने के लिए आमंत्रित करता हूं’

विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रधानमंत्री परिवीक्षाधिकारियों के साथ दोपहर का भोजन करेंगे. शाम को मोदी वडोदरा हवाई अड्डे के लिए रवाना होंगे जहां से वह वायु सेना के विमान से वापस दिल्ली लौट आएंगे. अपने नवीनतम ‘मन की बात’ रेडियो संबोधन में मोदी ने लोगों से ‘रन फॉर यूनिटी’ में बड़ी संख्या में भाग लेने का आग्रह किया था.

उन्होंने कहा था, ‘रन फॉर यूनिटी एकता का प्रतीक है जो यह दिखाता है कि देश एक दिशा में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ के लक्ष्य के साथ सामूहिक रूप से आगे बढ़ रहा है. ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम की घोषणा प्रधानमंत्री ने 31 अक्टूबर 2015 को पटेल की 140 वीं जयंती पर की थी. कार्यक्रम का उद्देश्य देश के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में रहने वाले, विविध संस्कृतियों के लोगों के बीच आपसी संबंधों को बढ़ाना और उनके बीच बेहतर आपसी समझ को प्रोत्साहित करना है.

(इनपुट-भाषा)