शिमला: जनपद के छक्कर इलाके के एक आश्रय गृह से रविवार को भागे पांच लड़कों को पुलिस ने एक घंटे में ही खोज निकालने का दावा किया. शिमला पुलिस ने सोमवार को इस बाबत जानकारी दी. बोइलेगंज थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि कल (रविवार) शाम साढ़े चार बजे छक्कर के आश्रय ग्रह से पांच किशोर फरार हो गए थे.

तनुश्री के समर्थन में बॉलीवुड के कई दिग्गज, कहा- उन्हें चुप न कराया जाए, आरोपों की जांच हो

आश्रय गृह में नहीं रहना चाहते हैं किशोर
थाना प्रभारी ने बताया कि इन सभी को आश्रय गृह से भागने एक घंटे के भीतर ही संकट मोचन मंदिर के वन क्षेत्र से ढूंढ निकाला गया था. उन्होंने कहा कि जानकारी मिलते ही भागे किशोरों की तलाश के लिए गहन अभियान चलाया गया और सभी जिलों एवं आस-पड़ोस के राज्यों को तत्काल संदेश भेज दिए गए. उन्होंने बताया कि बरामद सभी किशोरों को आश्रय ग्रह के अधिकारियों के सुपुर्द कर दिया गया है.

एनआईए का खुलासा: रोहिंग्या मुस्लिमों से एकजुटता दिखाने के लिए किया गया था बोधगया में विस्फोट

लड़कों ने पुलिस से कहा, “हम आश्रय ग्रह में नहीं रहना चाहते और अपने-अपने घरों को लौटने चाहते हैं. इसी कारण से हम आश्रय ग्रह से भाग गए थे.’ थाना प्रभारी ने बताया था कि इनमें से एक लड़का पहले भी आश्रय गृह से भाग चुका है और उसे हाल ही में हरियाणा से वापस लाया गया था.

कांग्रेस ने कहा- राहुल गांधी के नेतृत्व में देश को भाजपा सरकार से दिलाएंगे मुक्ति

(इनपुट भाषा)