पुणे: महाराष्ट्र के पुणे जिले के विभिन्न क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश के बाद बाढ़ आने और दीवार गिरने की अलग-अलग घटनाओं में कुल 11 लोगों की मौत हो गई. इस बात की जानकारी अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने दी. मुख्य अग्निशमन अधिकारी प्रशांत रानपिसे ने बताया कि नौ साल के एक लड़के समेत पांच लोगों की बुधवार रात अर्नेश्वर क्षेत्र में दीवार गिरने से मौत हो गई.

दरअसल भारी बारिश के बाद क्षेत्र में पानी भर गया था. उन्होंने बताया कि एक अन्य घटना में साहकर नगर क्षेत्र में एक व्यक्ति का शव मिला. इस क्षेत्र में पानी भरा हुआ है. वहीं एक व्यक्ति का शव एक कार से मिला, जो सिंहगढ़ मार्ग पर पानी में बह गई थी. इसी तरह से कई अन्य जगहों पर लोगों के मृत पाए जाए की सूचना मिल रही है. बुधवार को भारी बारिश के बाद पुणे और आसपास के क्षेत्रों के कई निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए.

ऐसे हालात को देखते हुए एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत बचाव कार्य के लिए भेजी गई हैं. वहीं, शहर की कई तहसीलों में स्कूल-कॉलेजों में गुरुवार को छुट्टी कर दी गई है. पुणे के जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने पुणे शहर, पुरंदर, बारामती, भोर और हवेली तहसील में स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी कर दी है. वहीं, सासवाड़ में भारी बारिश के कारण नजारे बांध से 85000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. बारामती जिले में बाढ़ की आशंका के चलते अलर्ट घोषित कर दिया गया है.

(इनपुट- भाषा)