रिटेल दिग्गज कंपनी अमेजन (Amazon) ने अपने खरीदारों को 300 पाउंड के निंटेंडो स्विच के बदले कंडोम और रैंडम आइटम जैसे टूथब्रश और टैम्बोरीन भेजने के लिए माफी मांगी है। कंपनी ने इस गड़बड़ी के बाद माफी मांगी है। इसे लेकर ऑनलाइन खरीदारी करने वाले करीब दर्जन भर ग्राहकों ने इस पर निराशा जताई और शिकायत की। उन्होंने ग्राहकों को पैसे वापस करने का वादा किया है, जिसमें से कुछ नाराज थे कि उन्होंने ब्लैक फ्राइडे के दिन ऑर्डर किया, लेकिन अब उन्हें पूरी कीमत देनी होगी।

द डेली मिरर की गुरुवार की रिपोर्ट के मुताबिक, स्टैफर्डशायर टटबरी के विव जॉनसन ने डेविड वालियटस की नवीनतम पुस्तक, द बीस्ट ऑफ बकिंघम पैलेस की एक प्रति प्राप्त की, जो कार्डबोर्ड पैकिंग के अंदर थी। जॉनसन ने कथित तौर पर अमेजन के पैकेज की तस्वीर साझा की और लिखा, “मैं अपना पैसा वापस चाहता हूं। आपने डिलीवरी की और पार्सल को वापस लेने से इनकार कर दिया, जिसे तोड़ दिया गया था।” इस बीच अमेजन ने इस बड़ी भूल के लिए जांच शुरू की है।

इससे पहले भी कई खबरें सामने आई हैं जब ग्राहकों के द्वारा ऑनलाइन मंगवाए गए समान के बदले उन्हें साबुन, ईंटें या लकड़ी के टुकड़े मिलते हैं। हाल में एक ताजा वाक्या सामने आया है, जहां कन्नूर के एक व्यक्ति के साथ ऑनलाइन धोकाधड़ी (Flipkart wrong delivery case) हुई है। विष्णु सुरेश नाम के इस व्यक्ति ने Flipkart के जरिए 20 नवंबर को 27,500 रुपये का एक कैमरा ऑर्डर किया था, लेकिन सुरेश को भी नहीं पता था कि उसे कैमरा की जगह बॉक्स के अंदर टाइल्स मिलेंगी।

Malayala Manorama की रिपोर्ट के मुताबिक, सुरेश ने Flipkart के जरिए 20 नवंबर को ऑर्डर किया था। इस पैकैज को Flipkart की सब्सिडरी Ekart Logistics ने 24 नवंबर को सुरेश के एड्रेस पर डिलिवर किया था। डिलिवर हुए बॉक्स में सुरेश को कैमरा की मैन्युल और वारंटी कार्ड तो मिले, लेकिन कैमरा की जगह कुछ टाइल के टुकड़े मिले। इसके बाद सुरेश ने इस गड़बड़ की जानकारी Flipkart के कस्टोमर केयर को भी दी। रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि रिटेलर ने सुरेश को एक हफ्ते के अंदर नया कैमरा भेजने का वादा भी किया है।

Input:IANS