रोम, इटली की भरोसा रोधी प्राधिकरण ने बुधवार को प्रौद्योगिकी दिग्गज एप्पल और सैमसंग पर जानबूझकर अपने ग्राहकों के फोन को धीमा और बेकार बनाने के लिए भारी जुर्माना लगाया है. प्राधिकरण ने कहा है कि दोनों कंपनियां बेईमान वाणिज्यिक प्रथाओं में संलिप्त हैं. समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, इटली के प्रतिस्पर्धा आयोग (एजीसीएम) ने एप्पल और सैमसंग पर क्रमश: एक करोड़ और आधा करोड़ यूरो (1.14 करोड़ और 57 लाख डॉलर) का जुर्माना लगाया है.

इसके अलावा उसने कहा कि दोनों कंपनियों ने सॉफ्टवेयर अपडेट के बहाने जानबूझ कर ग्राहकों के फोन को धीमा कर दिया और उसकी कार्यप्रणाली को बिगाड़ दिया, ताकि वही ग्राहक फिर से नया फोन खरीदें. रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2016 के सितंबर से एप्पल अपने आईफोन 6 के ग्राहकों को बार-बार अपना सॉफ्टवेयर अपडेट का नोटिफिकेशन भेज रहा है, जिसे अगली पीढ़ी के मॉडल आईफोन 7 को ध्यान में रखकर बनाया गया है. साथ ही कंपनी ने यूजर्स को यह नहीं बताया कि इस अपडेट को करने से उनका फोन स्लो हो जाएगा तथा उसकी कार्यप्रणाली भी बिगड़ जाएगी.

वहीं, दूसरी तरफ सैमसंग ने गैलेक्सी नोट फोन रखनेवालों को गूगल के एंड्रायड ऑपरेटिंग सिस्टम का नया वर्शन इंस्टाल करने को कहा, जिसे हाल के गैलेक्सी नोट 7 को ध्यान में रखकर बनाया गया था. इस अपडेट को करने से गैलेक्सी नोट के पुराने फोन धीमे चलने लगे.

(इनपुट आईएएनएस)