नरेंद्र मोदी कैबिनेट द्वारा सिंगल-ब्रांड रिटेल (एसबीआरटी) में 30 प्रतिशत स्थानीय सोर्सिग मानदंड में ढील देने के फैसले का स्वागत करते हुए एप्पल ने भारत को अपना अगला ग्रोथ हब घोषित किया और कहा कि पहले वह एक्सक्लूसिव ऑनलाइन स्टोर लॉन्च करेगी और उसके बाद रिटेल स्टोर खोलेगी। IANS की रिपोर्ट के मुताबिक कपर्टिनों की आईफोन निर्माता कंपनी ने कहा कि भारत को दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की जा रही कड़ी मेहनत की वह सराहना और समर्थन करती है।
एप्पल ने कहा, “हम भारत में अपने ग्राहकों से प्यार करते हैं और एप्पल के दुनियाभर के ग्राहक जिस प्रकार से ऑनलाइन व स्टोर दोनों ही माध्यम से हमारी सेवाओं का आनंद लेते हैं, वही समान अनुभव हम भारत के ग्राहकों को प्रदान करने के लिए उत्सुक हैं।” कंपनी ने आगे कहा, “हम इसे संभव बनाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और उनकी टीम द्वारा समर्थन और कड़ी मेहनत की सराहना करते हैं। इसके साथ ही हम जल्द ही एक दिन भारत के एप्पल रिटेल स्टोर में ग्राहकों का स्वागत करने के लिए उत्सुक हैं।”

भारत के यूजर्स जल्द ही एप्पल के खुद के वेबसाइट से एप्पल के डिवाइसों की खरीद कर सकेंगे, जिस पर उन्हें कंपनी द्वारा दिए गए कई ऑफर्स और छूट प्राप्त होंगे। हालांकि, एप्पल ने कहा कि देश में उनके पहले ब्रांडेड स्टोर की घोषणा करने में थोड़ा समय लगेगा। वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा था, “यह फैसला किया गया है कि एसबीआरटी निकायों द्वारा भारत से की गई सभी तरह की खरीद को लोकल सोसिर्ंग में गिना जाएगा, चाहे वह उन सामानों की बिक्री भारत में करे या उसका निर्यात करे।”

उन्होंने कहा, “इसके अलावा, निर्यात पर फिलहाल लगे 5 लाख की रोक को भी हटा लिया गया है, ताकि निर्यात को बढ़ावा मिले।” एप्पल के सीईओ टिम कुक ने हाल में ही कहा था, “हम यहां रिटेल स्टोर्स खोलना चाहते हैं। और हम सरकार के साथ मिलकर इसकी मंजूरी के लिए काम कर रहे हैं।” काउंटरप्वाइंट रिसर्च के एसोसिएट निदेशक तरुण पाठक ने आईएएनएस से कहा, “कुछ साल पहले ही ऑनलाइन खंड में एप्पल को भारत में काफी सफलता मिली थी। उसके बाद उन्होंने खुदरा दुकानों पर ध्यान देना शुरू कर दिया था।” उन्होंने कहा, “हालांकि तब एप्पल दूसरों की वेबसाइट पर बिक्री करती थी, लेकिन अब वह खुद की ऑनलाइन बिक्री स्टोर खोल सकेगी और छूट और ऑफर्स पर कंपनी का खुद का नियंत्रण होगा।”