अमेरिका की दिग्गज कंपनी Apple ने भारत में 99 रुपये प्रति माह पर एप्पल टीवी प्लस सब्सक्रिप्शन की घोषणा के साथ सभी ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेयर को चिंता में डाल दिया था। एप्पल की नई स्ट्रीमिंग टेलीविजन सर्विस ‘एप्पल टीवी प्लस’ अब आईफोन, आईपैड, ऐप्पल टीवी और मैक के टीवी ऐप पर उपलब्ध है। इसके साथ ही इस सर्विस का लाभ स्मार्ट टीवी, रोकू, अमेजन फायर टीवी स्टिक और टीवी डॉट ऐप्पल डॉट कॉम की वेब पर भी उठाया जा सकता है।

यह सेवा दुनियाभर के 100 से अधिक देशों में उपलब्ध है और इसकी कंटेंट को 40 भाषाओं में सबटाइटल या डब भी किया गया है। यदि आप एक नया आईफोन, आईपैड, एप्पल टीवी, मैक या आईपॉड खरीदते हैं तो आप एक साल तक एप्पल टीवी प्लस का मुफ्त में आनंद ले सकते हैं। एक बार मुफ्त अवधि खत्म होने के बाद भी ग्राहक 99 रुपये महीने का भुगतान कर इसका लाभ उठा सकते हैं। इसे परिवार के साथ साझा करना भी आसान है। परिवार के छह सदस्य एक ही सदस्यता को आपस में साझा कर सकते हैं।

‘एप्पल टीवी प्लस’ पर लॉन्च हुए उपलब्ध टीवी शो में ‘द मॉर्निग शो’, ‘डिकिन्सन’, ‘फॉर ऑल मैनकाइंड’, ‘हेल्पस्टर्स’, ‘स्नूपॉपी इन स्पेस’, ‘घोस्ट राइटर’, और ओपरा विनफ्रे के बुक क्लब शामिल हैं। इसके साथ ही इस पर डॉक्यूमेंट्री ‘द एलीफेंट क्वीन’ भी उपलब्ध है।

वर्तमान में एप्पल टीवी प्लस, नौ ओरिजनल कन्टेंट स्ट्रीमिंग प्रदान करता है, जो कि दुनिया के सबसे प्रसिद्ध क्रिएटिव आर्टिस्ट में से हैं। अपने खुद के डिवाइस आईफोन, आईपैड और मैक के अलावा एप्पल टीवी प्लस स्ट्रीमिंग को एप्पल टीवी एप के माध्यम से कुछ चुनिंदा डिवाइस में भी देखा जा सकेगा, जिसमें सैमसंग स्मार्ट टीवी और अमेजन फायर टीवी, एलजी और सोनी प्लेटफॉर्म्स शामिल हैं। भारतीयों के घरों में जाने के लिए और अपनी छाप छोड़ने के लिए कंपनी को चाहिए कि वह अधिक संख्या में अपने डिवाइस बेचे और अधिक संख्या में देशी कन्टेंट तैयार करे।

(इनपुट IANS से)