BSNL Tariff Hike : सरकारी टेलीकॉम कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने भी अपने मोबाइल प्लान्स के टैरिफ में बढ़ोत्तरी करने का ऐलान कर दिया है। Vodafone Idea, Bharti Airtel और Reliance Jio के बाद बीएसएनएल भी टैरिफ बढ़ाने वाली कंपनियों शामिल हो गई है। देश की सभी प्रमुख टेलीकॉम कंपनियों ने दिसंबर माह से अपने टैरिफ में बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। BSNL ने कंफर्म करते हुए बताया कि वह भी दिसंबर 2019 से मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की घोषणा की है।

बीएसएनल ने अपने टैरिफ में बढ़ोतरी का ऐलान तो कर दिया है लेकिन कंपनी ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि वह टैरिफ में कितनी बढ़ोतरी करने जा रही है। इकोनॉमिक्स टाइम्स से बात करते हुए बीएसएनएल के एक अधिकारी ने बताया कि फिलहाल हम अपने वॉइस और डाटा टैरिफ की जांच कर रहे हैं। हम एक दिसंबर 2019 से टैरिफ बढ़ाने पर विचार कर सकते हैं। बता दें कि Vodafone Idea और Bharti Airtel के साथ-साथ जियो ने एक दिसंबर से मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की घोषणा पहले ही कर दी है।

टेलीकॉम सेक्टर में वोडाफोन-आइडिया, एयरटेल और जियो के बाद BSNL भी प्रमुख नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनियों में शामिल है। सरकारी कंपनी बीएसएनएल ने टेलीकॉम सेक्टर की राइवल कंपनियों से लड़ने के लिए बीते अक्टूबर महीने में अपने प्लान्स में बदलाव किए थे। इसके साथ ही सरकार बीएसएनएल और महानगर टेलीकॉम निगम लिमिटेड (MTNL) के मर्जर को लेकर भी रूप रेखा बना रही है। सरकार ने बीएसएनएल को वित्तीय संकट से उभारने के लिए रिवाइवल पैकेज भी देने का ऐलान किया है। इसके साथ ही टैरिफ हाइक भी बीएसएनल के स्थिति को पहले से बेहतर करने में मददगार हो सकता है। तीन साल पहले रिलायंस जियो के टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री के बाद से कंपनियों की स्थिति लगातार खराब हो रही है।

Reliance Jio की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कंपनी इंडस्ट्री में अपने राइवल कंपनियों से क्वालिटी से कॉम्पीट करेगी। वहीं बीएसएनएल भी टेलीकॉम मार्केट में अच्छा परफॉर्मेंस कर रही है। TRAI की रिपोर्ट के मुताबिक, BSNL ने सितंबर महीने में 7.37 लाख नए सब्सक्राइबर्स जोड़े थे वहीं उसके कुल ग्राहक 11.69 करोड़ हैं। वहीं Bharti Airtel और Vodafone Idea ने सितंबर महीने में 49 लाख कस्टमर्स गवाएं है।