वाशिंगटन: सोशल मीडिया मंच ट्विटर ने मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जैक डोर्सी का खाता हैक हो जाने के बाद फोन से संदेश (टेक्स्ट) भेजकर ट्वीट करने की सुविधा को बुधवार को निलंबित कर दिया. डोर्सी पिछले सप्ताह ‘सिम स्वैप’ के शिकार हो गये थे. हैकर इस तरीके का इस्तेमाल कर उपभोक्ता का फोन नियंत्रित कर लेते हैं. इससे हैकर के पास सोशल मीडिया खाता समेत बैंक खाता तथा अन्य संवेदीनशील जानकारियों का नियंत्रण पहुंच जाता है.

ट्विटर की सपोर्ट टीम ने कहा, ‘‘हम लोगों का ट्विटर खाता सुरक्षित रखने के लिये फिलहाल एसएमएस या टेक्स्ट के जरिये ट्वीट करने की सुविधा को बंद कर रहे हैं.’’ कंपनी ने कहा कि वह इस समस्या के दीर्घकालिक समाधान पर काम कर रही है.

Jio GigaFiber : आज होगी कामर्शियल लॉन्चिंग, यहां जानें कनेक्शन से लेकर प्लान्स की फुल डिटेल

बता दें कि कुछ दिन पहले ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डोर्सी का अकाउंट हैक हो गया था, जिससे कई आपत्तिजनक ट्वीट किए गए थे. हैकर ने इन ट्वीट के जरिए जैक पर नस्लीय टिप्पणी की और उनके मुख्यालय में बम होने की अफवाह भी उड़ाई. अकाउंट हैक होने का पता चलने के बाद ये ट्वीट डिलीट कर दिए गए थे.

कुछ ट्वीट में #चकलिंगस्क्वैड लिखा हुआ था. ऐसा माना जा रहा है कि यह हैकर्स का एक समूह है. हैकर समूह ने नाजी जर्मनी के समर्थन में भी ट्वीट किए. ट्विटर के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि जैक डोर्सी का अकाउंट हैक हुआ है और हम इसकी जांच कर रहे हैं.’’ इसके बाद कुछ ट्विटर यूजर ने ट्वीट करके सवाल किए कि दो प्रकार से सत्यापन का तरीका ट्विटर के सह-संस्थापक का अकाउंट सुरक्षित क्यों नहीं रख पाया. उन्होंने चिंता जताई कि यह सेवा अपने प्रमुख का अकाउंट भी सुरक्षित नहीं रख पाई.