जैसे ही आप आधुनिकतम स्पेसीफिकेशन वाला कोई चीनी स्मार्टफोन खरीदने का मन बनाते हैं तो आपके दिमाग में तुरंत वनप्लस, ओप्पो, वीवो या रियलमी जैसे ब्रांड्स आते हैं. इन ब्रांड्स ने भारतीय बाजार में बहुत ही कम समय में लोकप्रियता और बाजार हिस्सेदारी बना ली है. कई लोग नहीं जानते कि ये लोकप्रिय स्मार्टफोन ब्रांड्स की मूल कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स नाम की एक चीनी बहुराष्ट्रीय कंपनी है और इन कंपनियों की आय बीबीके के पास जाती है.

भारत में बीबीके की बाजार हिस्सेदारी 2018 में 21 प्रतिशत थी जो 2017 के 18 प्रतिशत से तीन प्रतिशत ज्यादा थी. काउंटरपॉइंट रिसर्च द्वारा दिए आंकड़ों के अनुसार, बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स ने भारत में 2018 में 27 प्रतिशत वृद्धि की. इसके साथ ही यह श्याओमी और सैमसंग के बाद तीसरे स्थान पर पहुंच गया.

सच्चाई ये है कि श्याओमी और सैमसंग का एक मजबूत प्रतिद्वंद्वी बीबीके है. श्याओमी 2018 में भारतीय बाजार में 28 फीसदी हिस्सेदारी के साथ शीर्ष पर रही वहीं सैमसंग 24 फीसदी हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर रही. काउंटरपॉइंट ने कहा कि तीसरे स्थान पर 10 फीसदी हिस्सेदारी के साथ वीवो, वहीं आठ प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ ओप्पो चौथे स्थान पर रहा.

भारत में प्रीमियम सेगमेंट में बीबीके का वनप्लस अब प्रमुख ब्रांड है. वनप्लस पिछले साल देश में प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट में सैमसंग के बाद 33 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर रहा था. वनप्लस ने एक तिमाही (क्यू4) में अभी तक की सबसे ज्यादा बिक्री कर बाजार हिस्सेदारी में 36 फीसदी हिस्सेदारी करते हुए लगातार तीन तिमाहियों तक प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट में अगुआ रहा.

काउंटरपॉइंट में शोध विश्लेषक कर्ण चौहान ने कहा, “थोक के साथ-साथ खुदरा बिक्री के मामले में वनप्लस 6 पूरे 2018 में सबसे ज्यादा बिक्री वाला प्रीमियम मॉडल रहा. वनप्लस 6टी दूसरे स्थान पर रहा इसके बाद सैमसंग एस9 प्लस रहा.” बीबीके का हाल ही में लांच ब्रांड रियलमी ने 2018 की चौथी तिमाही (31 दिसंबर तक) में आठ फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ चौथे स्थान पर कब्जा किया.

पिछले साल दूसरी तिमाही में शुरू हुआ रियलमी उसी वर्ष चौथी तिमाही तक शीर्ष पांच ब्रांड्स में शामिल हो चुका था. रियलमी किसी भी अन्य ब्रांड से कम समय में 40 लाख ग्राहक बना चुका था. बीबीके आज सामूहिक रूप से दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी मोबाइल निर्माता कंपनी है. यह विस्तार क्षेत्र के मामले में हुआवे से भी बड़ी है.

डुआन योंगपिंग द्वारा स्थापित बीबीके का मुख्यालय गुआंगडोंग के डोंगुआन में है. इसने 1990 में व्यापार की शुरुआत टीवी, एमपी3 और डिजिटल कैमरे के निर्माण के साथ की थी फिर इसके बाद इसने मोबाइल फोन निर्माण के बाजार में उतरते हुए सैमसंग, हुआवे और श्याओमी जैसी कंपनियों को टक्कर दी.