भारत में स्मार्टफोन मेकर कंपनी के तौर पर Xiaomi काफी लोकप्रिय है। IDC की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल की तीसरी तिमाही तक शाओमी का भारतीय स्मार्टफोन मार्केट में  27.1 प्रतिशत शेयर है। स्मार्टफोन मार्केट के साथ-साथ चाइनीज कंपनी ने भारत में smart TV सेगमेंट में भी लीडर है।कंपनी की लोकप्रियता ग्राहकों के लिए बड़े रिस्क के रूप में सामने आ रही है।

मार्केट में कंपनी के नाम से नकली प्रोडक्ट बेचे (Counterfeit Xiaomi products) जा रहे हैं। कंपनी की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक पुलिस ने राजधानी दिल्ली स्थित गफ्फार मार्केट से शाओमी के नाम से बिक रहे 13 लाख रुपये की कीमत के नकली सामना जब्त किया है।

Xiaomi के 13 लाख रुपये के नकली प्रोडक्ट जब्त

Xiaomi की ओर से जारी बयान में कहा कि कंपनी ने नकली प्रोडक्ट के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी। जिसके बाद करोल बाग पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए लोकल इलेक्ट्रॉनिक सामान के प्रसिद्ध गफ्फार मार्केट से 25 नवंबर को 2000 से ज्यादा Xiaomi के नकली प्रोडक्ट जब्त किए हैं। शाओमी का नकली प्रोडक्ट बेचने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है। नकली सामना में मोबाइल फोन एक्सेसरीज शामिल हैं। इनमें से कुछ प्रोडक्ट को कंपनी ने भारत में लॉन्च भी नहीं किया है।

ये प्रोडक्ट किए गए ज़ब्त

पुलिस द्वारा जब्त किए गए सामान में Mi पावरबैंक्स , Mi नेकबैंड्स, Mi ट्रेवल एडेप्टर और कैबल, Mi इयरफोन बेसिक विथ माइक, Mi वायरलैस हेडसेट्स, Redmi एयर डॉट्स, Mi 2-in-1 USB केबल समेत कई प्रोडक्ट शामिल हैं। पुलिस की जांच में पता चला है कि ये लोग बीते कई सालों से ये धंधा कर रहे हैं। ये नकली सामान रिटेल और होलसेल कस्टमर्स को बेचा जाता था।

नोकिया सैमसंग समेत ये कंपनियां भी हुई शिकार

Xiaomi ही नहीं दूसरी कंपनिया जैसे नोकिया, सोनी इरीक्शन और सैमसंग जैसी कंपनियों के भी नकली सामान इन मार्केट में धड़ल्ले से बेचे जाते हैं। हम आपको यहां बताएंगे की कैसे आप शाओमी के ऑरिजनल और नकली सामना की पहचान कर सकते हैं।

ऐसे करें Xiaomi के नकली प्रोडक्ट की पहचान

  • शाओमी के कई प्रोडक्ट में दिए सिक्योरिटी कोड को mi.com में चेक करके प्रोडक्ट की ऑथेंटिसी को जांचा जा सकता है।

 

  • पैंकिंग और रिटेल बॉक्स की क्वालिटी के जरिए भी नकली प्रोडक्ट की पहचान की जा सकती है। आप शाओमी के Mi Home/Mi Store में जा कर ऑरिजनल प्रोडक्ट का रिटेल बॉक्स देख सकते हैं।

 

  • ऑरिजनल प्रोडक्ट पर Mi Logo के लोगो से भी प्रोडक्ट को पहचाना जा सकता है। Mi.com पर पैकिंग पर ऑरिजनल लोगो को देख सकते हैं।

 

  • शाओमी के सभी फिटनेस बेंड Mi Band कंपनी की Mi Fit ऐप से कनेक्ट होते हैं.

 

  • शाओमी के ऑरिजनल बैटरियों पर Li-Poly बैटरी लिखा होता है। अगर शाओमी के किसी बैटरी पर Li-ion लिखा है तो समझिए कि वे नकली प्रोडक्ट है।

 

  • शाओमी की ऑरिजनल USB कैबल की पहचान उसकी क्वालिटी से की जा सकती है। नकली कैबल काफी पतली और आसानी से टूट जाती है।

नक़ली सामान न सिर्फ़ कंपनी के लिए ख़तरा है बल्कि यह कस्टमर्स के लिए भी हानिकारक है। इससे कस्टमर्स की हेल्थ, सेफ्टी और डाटा के साथ प्राइवेसी खतरे में पड़ सकती है। ऐसे में कोई भी प्रो़डक्ट को कंपनी ने आधिकारिक स्टोर से खरीदा चाहिए।