Google Acquires Elastifile :  अमेरिकी इंटरनेट कंपनी गूगल ने गूगल क्लाउड के माध्यम से क्लाउड के लिए स्केलेबल एंटरप्राइजेज स्टोरेज प्रदाता इजरायली-अमेरिकी कंपनी इलास्टीफाइल को खरीद लिया है। दोनों कंपनियों ने मंगलवार को यह घोषणा की। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, दोनों कंपनियों ने हालांकि अधिग्रहण की राशि का खुलासा नहीं किया लेकिन इजरायली मीडिया के अनुमान के अनुसार यह सौदा 20 करोड़ डॉलर (Google Acquires Elastifile ) में हुआ है।

कंपनी ने अब तक फंड और चीनी कंपनी हुआवेई और लेनेवो के साथ-साथ सैमसंग, सिस्को और डेल जैसे निवेशकों से 7.5 करोड़ डॉलर इकट्ठे कर लिए हैं। इलास्टीफाइल ने एक क्लाउड स्टोरेज सोल्यूशन विकसित किया है जो सर्वर फार्म्स की कार्य क्षमता बढ़ाता है। जिससे स्टोरेज को हजारों डेटाबेस तक बढ़ाया जा सकता है, और उपभोक्ता स्टोरेज सिस्टम सपोर्ट करने वाले एप्लीकेशंस को जल्दी बदल सकते हैं।

कंपनी ने कहा कि उसका सोल्यूशन मेग्नेटिक डिस्क्स या हाईब्रिड सोल्यूशंस (डिस्क्स और फ्लैश टैक्नोलॉजी घटक) पर आधारित सोल्यूशन है। गूगल क्लाउड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) थॉमस कुरियन ने कहा, “इलास्टीफाइल क्लाउड में स्केल पर चलने वाले एंटरप्राइजेज-ग्रेड के एप्लीकेशंस के लिए फाइल स्टोरेज से संबंधित चुनौतियों का समाधानकर्ताओं में अगुआ है।”

क्या है क्लाउड स्टोरेज

What is Cloud Storage मोबाइल, कंप्यूटर और पेन ड्राइव इत्यादि में हम जो डाटा स्टोर करते हैं वह डाटा स्टोरेज का डिजिटल माध्यम है। वहीं क्लाउड स्टोरेज डाटा स्टोर करने का एक वर्चुअल माध्यम है। इसमें डाटा आपके फोन या कंप्यूटर के लोकल ड्राइव में नहीं होता। आपके फोन या कंप्यूटर का डिजिटल डाटा किसी दूसरे कंपनी के सर्वर पर स्टोर होता है और इस डाटा को आप कई माध्यम से एक्सेस कर सकते हैं। इस डाटा का मैनेजमेंट होस्टिंग कंपनी के पास होता है। इसमें डाटा स्टोरेज के लिए एप्लिकेशन का सहारा लिया जाता है। क्लाउड स्टोरेज में डाटा स्टोर करने के लिए स्पेस अलग-अगल कंपनियों द्वारा प्रदान किया जाता है।