भारत में Google Pay को लॉन्च हुए अभी लगभग दो साल ही हुए हैं, लेकिन कंपनी ने मंथली एक्टिव यूजर्स के मामले में PhonePe को पीछे छोड़ दिया है। Google Pay के अभी भारत में 6.7 करोड़ एक्टिव यूजर्स हैं। वहीं Flipkart के स्वामित्व वाली PhonePe के एक्टिव मंथली यूजर्स की संख्या 5.5 करोड़ हैं। अपने सालाना ‘गूगल फॉर इंडिया’ आयोजन के पांचवें संस्करण में टेक्नोलॉजी दिग्गज गूगल ने कहा कि गूगल पे के यूजर्स पिछले 12 महीनों में तीन गुना की रफ्तार से बढ़े हैं।
गूगल पे के निदेशक (प्रोडक्ट मैनेजमेंट) अंबरीश केंघे ने एक बयान में कहा, “भारत की तेजी से बढ़ती इंटरनेट अर्थव्यवस्था की सबसे बड़ी कहानी डिजिटल पेमेंट का बढ़ना है। भीम UPI ने पिछले महीने 90 करोड़ पेमेंट का आंकड़ा पार कर लिया। पेमेंट को डिजिटल बनाने के लिए भारत वैश्विक मानक स्थापित कर रहा है।”

केंघे ने कहा, “पिछले 12 महीनों में, गूगल पे 3 गुना बढ़कर 6.7 करोड़ सक्रिय मासिक यूजर्स तक पहुंच गया है और सालाना आधार पर 110 अरब डॉलर का लेन-देन सैकड़ों-हजारों ऑफलाइन और ऑनलाइन व्यापारियों द्वारा किया जा रहा है।” भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की नवीनतम रिपोर्ट के मुताबिक, भारत ने पिछले चार सालों में रिटेल इलेक्ट्रॉनिक भुगतान लेन-देन में 50 फीसदी से अधिक की वृद्धि दर्ज की है।

भारत में नोटबंदी के बाद डिजिटल पेमेंट का चलन बढ़ा है। अब छोटे से लेकर बड़े दुकानदार और कंज्यूमर पैसे देने के लिए ऑनलाइन पेमेंट का सहारा ले रहे हैं। भारत में अभी भी सबसे ज्यादा लोग पेटीएम का इस्तेमाल करते हैं। व्हाट्सएप भी भारत में इस साल के अंत तक अपने ऑनलाइन पेमेंट को शुरू कर सकती है। व्हाट्सएप के इस सेगमेंट में आने से पेटीएम, फोनपे और गूगल पे को कड़ी टक्कर मिलेगी।