नई दिल्ली| प्रमुख सर्च इंजन गूगल ने अपने अनुवाद एप गूगल ट्रांसलेट में बंगाली व उर्दू सहित सात और भारतीय भाषाओं के लिए आफलाइन व चित्रों से तत्काल अनुवाद की सुविधा बुधवार से शुरू की. Also Read - टूटे ऑफिस में ही काम करने को मजबूर कंगना रनौत, रिनोवेट कराने के लिए नहीं है पैसे

कंपनी ने जिन और भारतीय भाषाओं के लिए गूगल ट्रांसलेट एप में ट्रांसलेशन की सेवाएं शुरू की है उनमें बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, तमिल, तेलुगु व उर्दू हैं. एंड्रायड व आईओएस स्मार्टफोन में इस एप का उपयोग किया जा सकेगा. Also Read - 26 साल की TV Actres ने की खुदकुशी, ब्‍वॉयफ्रेंड के साथ घूमने का क्‍या है कनेक्‍शन

बिना इंटरनेट भी करेगा काम:
यह सुविधा आफलाइन भी रहेगी यानी फोन में इंटरनेट नहीं होने पर भी यह फीचर काम करेगा हालांकि सम्बद्ध भाषा का पैक डाउनलोड करने के लिए इंटरनेट की जरूरत होगी. कंपनी के प्रवक्ता का कहना है कि उसकी यह पहल और अधिक भारतीय भारतीयों को अपनी भाषा में सूचनाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने की उसकी प्रतिबद्धता को दिखाता है. Also Read - पुणे में फिल्‍म एक्‍ट्रेस के साथ बैडटच, बंधक बनाया और धमकाया, तीन लोगों के खिलाफ FIR दर्ज

इसके बयान में कहा गया है कि इस एप के जरिए किसी भाषा के पाठ्य की फोटो के जरिए अनुवाद भी किया जा सकेगा. इसके लिए एप के जरिए कैमरे को इच्छित पाठ पर रखना होगा और वह उसका अनुवाद फोन की स्क्रीन पर दिखा देगा. जैसे अंग्रेजी में लिखे सड़क के नाम को यह एप आसानी से हिंदी व अन्य भाषाओं में अनुवादित कर देगा.

कंपनी का कहना है कि उसने अपने कन्वर्सेशन मोड का भी विस्तार कर इसमें बंगाली व तमिल भाषा को और जोड़ा है. कंपनी के ये सभी फीचर हिंदी भाषा में पहले ही उपलब्ध हैं.