नई दिल्ली: भारत की साइबर सुरक्षा एजेंसी सीईआरटी-इन ने वैश्विक हस्तियों के प्रोफाइल में सेंधमारी (हैकिंग) की हालिया घटना के बाद ट्विटर को नोटिस जारी किया है. एक सूत्र ने इसकी जानकारी दी. मामले से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि सीईआरटी-इन ने ट्विटर को सेंधमारी की इस घटना से प्रभावित हुए भारतीय उपयोक्ताओं की संख्या के बारे में पूरी जानकारी देने को कहा है. इसके अलावा ट्विटर से यह भी बताने को कहा गया है कि इस घटना में किस तरह की सूचनाएं प्रभावित हुई हैं. Also Read - COVID-19 से निपटने में भारत के अनुसंधान, निर्माण कार्य अहम : बिल गेट्स

सूत्र ने बताया कि सीईआरटी-इन ने ट्विटर से पूछा है कि कितने भारतीय उपयोक्ताओं ने दुर्भावनापूर्ण ट्वीट और लिंक पर विजिट किया है और क्या ट्विटर ने प्रभावित उपयोक्ताओं को उनके प्रोफाइल में सेंध व अनधिकृत उपयोग के बारे में बताया है. Also Read - ट्विटर ने जम्मू-कश्मीर को बताया चीन का हिस्सा, भड़के लोगों ने रविशंकर प्रसाद से की कार्रवाई की मांग

सरकार ने हमलावरों के हमले से लोग किस तरह प्रभावित हुए हैं इसकी जानकारी मांगी है. साथ ही हमले के तौर-तरीके के बारे में भी ब्योरा मांगा है. इसके अलावा हैकिंग की घटना के प्रभाव को कम करने के लिए ट्विटर द्वारा की गयी सुधारात्मक कार्रवाई का विवरण मांगा है. ट्विटर से इस बारे में तत्काल प्रतिक्रिया नहीं मिल पायी है. Also Read - बाइडन की आलोचना वाले लेख को ट्विटर, फेसबुक ने किया बैन, डोनाल्ड ट्रंप को आया गुस्सा

भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम (सीईआरटी-इन) कई वैश्विक कारोबारियों, राजनेताओं, मशहूर हस्तियों और व्यवसायों के खातों को हैक करने के लिये ट्विटर की प्रणाली में सेंध की खबरों के बाद कार्रवाई में जुट गई थी.

साइबर हमलावरों ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बिडेन के साथ-साथ अमेजन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जेफ बेजोस, माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क जैसी बड़ी वैश्विक हस्तियों के ट्विटर खाते को बुधवार को हैक कर लिया था.

(इनपुट भाषा)