Smartphone Tips And Trick: स्मार्टफोन का इस्तेमाल यूजर्स के बीच काफी बढ़ गया है और आज हम हर छोटे-बड़े काम के लिए काफी हद तक स्मार्टफोन पर निर्भर होते हैं. फिर चाहें ऑनलाइन शॉपिंग करनी हो या ऑनलाइन बैंकिंग, हम स्मार्टफोन के मदद से अपना काफी समय बचा लेते हैं. लेकिन स्मार्टफोन में हैक और फ्रॉड की कई मामले सामने आते रहते हैं और आए दिन यह​ मामले बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे में किसी दुर्घटना से बचने के लिए आपको अपने फोन की सेटिंग में कुछ बदलाव करने होंगे. ताकि आपको भविष्य में स्मार्टफोन हैकिंग या फ्रॉड का सामना न करना पड़े.Also Read - कोई कर रहा है आपके Facebook प्रोफाइल में तांक-झांक, तो इस तरह लगाएं पता, जानें पूरा प्रोसेस

लोकेशन को करें टर्न ऑफ
अगर आप अपने स्मार्टफोन को फ्रॉड को बचाना चाहते हैं तो प्राइवेसी पर ध्यान देना बेहद जरूरती है. इसके लिए सबसे पहले अपने फोन की लोकेशन को टर्न ऑफ कर दें. लोकेशन टर्न ऑफ की सुविधा आपको एंड्राइड और आईफोन दोनों की सेटिंग्स में जाकर आसानी से मिल जाएगी. Also Read - Pegasus क्या है और कैसे करता है काम, वीडियो में जानें पूरी डिटेल

सोशल मीडिया अकाउंट को लॉगइन करने से बचे
अक्सर हम अपने स्मार्टफोन में सोशल मीडिया अकाउंट जैसे कि फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम आदि को लॉगइन करके रखते हैं जो कि खतरनाक साबित हो सकता है. क्योंकि कुछ गेम व वेबसाइट सीधे सोशल मीडिया अकाउंट लॉगइन करने की इजाजत देते है और इनके जरिए कोई आपने निजी डाटा को भी हैक कर सकता है. ऐसे में कोशिश करें कि अगर कोई ऐप या वेबसाइट आपसे सोशल मीडिया अकाउंट ओपन करने की इजाजत मांगता है तो उसे इग्नोर कर दें. Also Read - ध्यान दें! बारिश में भीग गया है फोन, तो न हो परेशान, ये टिप्स करेंगे आपकी मदद

सेंसिटिव कंटेंट को करें इग्नोर
हैक या फ्रॉड के मामले में आपको सेंसिटिव कंटेंट से बचना होगा. कई बार नोटिफिकेशन के माध्यम से स्क्रीन पर कुछ चीजें शो होती हैं और उनमें से यदि आपको कुछ सेंसिटिव लग रहा है तो ओपन न करें. इसके बचने के लिए आप नोटिफिकेशन पर कंटेंट को हाइड कर सकते हैं और इसके लिए फोन में सेटिंग्स में लॉक स्क्रीन के विकल्प का चयन करना होगा.

पर्सनलाइज्ड ऐड से बचें
क्या आप जानते हैं कि Google हमारी अधिकतर एक्टिविटीज को ट्रैक करता है और आपकी प्राइवेसी को पर्सनल ऐड के माध्यम से बाहर निकाल सकता है. साधारण शब्दों में कहें तो पर्सनलाइज्ड ऐप आपकी प्राइवेसी के लिए खतरा हो सकती हैं. ऐसे में आप Google ऐड में Unable Opt out of Ads Personalization विकल्प पर क्लिक कर इस समस्या से बच सकते हैं.