शनिवार को अमेरिका के राष्ट्रपती Donald Trump ने कहा कि US की कंपनिया अपने एक्विप्मेंट (पार्ट्स) को चीनी टेक्नोलॉजी दिग्गज Huawei को बेच सकती है। इसमें कोई शक नहीं है कि इस घोषणा ने हुवावे को US ट्रेड वार के चलते तनाव से एक बड़ी राहत दी होगी। Trump ने चीनी स्मार्टफोन मेकर Huawei को अमेरिकी कंपनियों के साथ व्यापार करने और मोबाइल पार्ट्स खरीदने की इजाजत दे दी है। आपको बता दें कि पिछले कुछ समय अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वार के चलते US ने सिक्योरिटी का हवाला देते हुए Huawei के US ट्रेड को ब्लॉक कर दिया था।

इनमें केवल Huawei ही नहीं कई अन्य चीनी कंपनियां भी शामिल थी। इतना ही नहीं, पिछले हफ्ते अमेरिका ने भारत को भी चेतावनी दी थी कि यदि कोई भारतीय कंपनी अमेरिकी कंपनियों द्वारा बने पार्ट्स या किसी प्रकार का प्रोडक्ट्स हुवावे को सप्लाई करती है तो उसके ऊपर भी कार्रवाई की जा सकती है। यहां तक की अमेरिकी सरकार ने इसके लिए भारत सरकार को चिट्ठी भी भेजी थी।

अब Huawei समेत Trump ने कई अन्य चाइनीज कंपनियों को भी अमेरिकी टेक्नोलॉजी कंपनियों के साथ ट्रेड (व्यापार) करने के लिए हरी झंडी दिखा दी है। बता दें कि शनिवार को डोनाल्ड ट्रंप और चीन के राष्ट्रपति Xi JinPing की मुलाकात के बाद Trump ने कहा कि वे Huawei समेत सभी चीनी कंपनियों को अमेरिका में व्यापार करने की अनुमति दी जाएगी।

Donald Trump ने यह घोषणा जापान के Osaka में चल रहे G20 Sumit की है। ट्रंप ने कहा है कि अमेरिकी कंपनियां अपने पार्ट्स हुवावे को बेच सकती हैं। हालांकि ट्रंप ने इसपर एक शर्त रखते हुए यह भी साफ किया कि यह ट्रेड केवल उन उपकरणों (Equipments) का होगा, जिनके साथ किसी प्रकार की राष्ट्रीय सुरक्षा की समस्या नहीं जुड़ी है।

बता दें कि हाल ही में अमेरिकी सरकार ने हुवावे को ब्लैकलिस्ट में डाल दिया था जिसके बाद हुवावे अमेरिकी कंपनियों के साथ ट्रेड ब्लॉक हो गया था। इतना ही नहीं, अमेरिका द्वारा ब्लॉक किए जाने बाद Qualcomm, Intel, Google और Facebook जैसी कंपनियों ने Huawei से ट्रेड करने से मना कर दिया था।