Flipkart wrong delivery case: आज भी भारत में कई लोग ऐसे होते हैं जो ऑनलाइन शॉपिंग से तौबा करते हैं। इसका सबसे बड़ा कारण ऑनलाइन शॉपिंग में होने वाली धोकाधड़ी है। हम समय-समय में ऐसे किस्से सुनते रहते हैं, जहां ग्राहकों के द्वारा ऑनलाइन मंगवाए गए समान के बदले उन्हें साबुन, ईंटें या लकड़ी के टुकड़े मिलते हैं। अब एक लेटेस्ट वाक्या सामने आया है, जहां कन्नूर के एक व्यक्ति के साथ ऑनलाइन धोकाधड़ी (Flipkart wrong delivery case) हुई है।

विष्णु सुरेश नाम के इस व्यक्ति ने Flipkart के जरिए 20 नवंबर को 27,500 रुपये का एक कैमरा ऑर्डर किया था, लेकिन सुरेश को भी नहीं पता था कि उसे कैमरा की जगह बॉक्स के अंदर टाइल्स मिलेंगी।

 

 

मंगाया कैमरा मिली टाइल्स, जानें क्या है पूरा मामला

Malayala Manorama की रिपोर्ट के मुताबिक, सुरेश ने Flipkart के जरिए 20 नवंबर को ऑर्डर किया था। इस पैकैज को Flipkart की सब्सिडरी Ekart Logistics ने 24 नवंबर को सुरेश के एड्रेस पर डिलिवर किया था। डिलिवर हुए बॉक्स में सुरेश को कैमरा की मैन्युल और वारंटी कार्ड तो मिले, लेकिन कैमरा की जगह कुछ टाइल के टुकड़े मिले। इसके बाद सुरेश ने इस गड़बड़ की जानकारी Flipkart के कस्टोमर केयर को भी दी। रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि रिटेलर ने सुरेश को एक हफ्ते के अंदर नया कैमरा भेजने का वादा भी किया है।

 

 

फिलहाल यह बात भी साफ नहीं हो पाई है कि कंपनी ने सुरेश को एक हफ्ते के अंदर नया कैमरा डिलिवर करने का वादा क्यों किया है। बता दें कि इस तरह की घटना पहली बार नहीं हई है। इससे पहले भी ई-कॉमर्स पोर्टल्स पर चीटिंग को लेकर कई घटनाएं सामने आ चुकी है। चीटिंग का इलजाम केवल ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर भी नहीं लगते हैं, बल्कि इससे पहले कुछ किस्से ऐसे भी देखने को मिले हैं, जहां ग्राहकों ने डिलिवरी मैन को चीट किया है।

 

 

इससे पहले पिछले साल अक्टूबर में एक मामला Amazon India की गलत डिलिवरी का भी आ चुका है, जहां ग्राहक को मोबाइल फोन के बजाय साबुन मिला था। ग्राहक ने Amazon से एक मोबाइल फोन मंगवाया था, जब उसे पैकेज डिलिवर हुआ तो बॉक्स में मोबाइल के बजाय साबुन निकले।