National Voters Day: अब आपको अपने विधानसभा या लोकसभा क्षेत्र जाकर वोट डालने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अब आपका  वोटर आईडी कार्ड भी डिजिटल होने जा रहा है और देश में जल्द ही आप कहीं से भी अपना वोट डाल सकेंगे. भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) अब इस दिशा में तैयारी कर रहा है. नेशनल वोटर्स डे (National Voters Day) की पूर्व संध्या पर मुख्य चुनाव आयुक्त (CEC) सुनील अरोड़ा ने इस बारे में जानकारी दी.Also Read - National Voters' Day 2022 : जानें इस दिन का क्या है महत्व, इतिहास और इस वर्ष की थीम

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि चुनाव आयोग भविष्य की इलेक्टोल प्रोसेस के कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि हम पहले ही आईआईटी मद्रास व अन्य संस्थानों के साथ मिलकर रिमोट वोटिंग प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं. इसमें मॉर्डन तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है और इस प्रोजेक्ट की प्रोग्रेस रिपोर्ट बहुत अच्छी है. Also Read - Winter Session 2021: TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन को राज्यसभा के बचे हुए सत्र से किया गया निलंबित, जानें वजह

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद आज वोटर आईडी कार्ड का इलेक्ट्रोनिक वर्जन लॉन्च करेंगे Also Read - Aadhaar से जुड़ेगा आपका Voter Card, लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पारित हुआ 'चुनाव सुधार विधेयक'

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद सोमवार को वोटर आईडी कार्ड का इलेक्ट्रोनिक वर्जन लॉन्च करने जा रहे हैं, जिसे मोबाइल फोन या किसी पर्सनल कम्प्यूटर पर डाउनलोड किया जा सकता है.

ये इ-इलेक्टर फोटो पहचान पत्र नोन-एडिटेबल वर्जन में उपलब्ध होगा यानी इसे आप एडिट नहीं कर सकेंगे. इसे आप डिजिटल लॉकर जैसी जगहों पर रख सकेंगे. इलेक्शन कमिशन से मिली जानकारी के मुताबिक अगर आप इसका प्रिंट निकालकर रखना चाहें तो आप इसका पीडीएफ नर्जन भी निकाल सकते हैं.

चुनाव आयोग ने अपने बयान में कहा, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद इ-इपिक प्रोग्राम लॉन्च करेंगे और पांच वोटर्स को इलेक्टर फोटो पहचान पत्र बांटेंगे.”

आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस डिजिटल मोड में पहले से ही उपलब्ध हैं.1993 में आए इलेक्टर वोटर आईडी कार्ड पहचान औऱ पते दोनों के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं.