नई दिल्ली: स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने वाले अक्सर अपने फोन में पासवर्ड या चोरी से बचने के तकनीक का उपयोग नहीं करते हैं. हालिया एक रिपोर्ट के अनुसार, ऐसे लोगों की तादाद 50 फीसदी से अधिक है, जिनके स्मार्टफोन पासवर्ड से सुरक्षित नहीं हैं. Also Read - Covid-19 संकट के बीच ट्रेन में यात्रा करने वाले सभी यात्र‍ियों पर लागू होगा ये नया नियम

रूस मुख्यालय वाली साइबर सिक्युरिटी कंपनी कास्पर्सकी लैब के सर्वेक्षण में बताया गया है कि 48 फीसदी से कम लोग अपने मोबाइल डिवाइस को पासवर्ड से सुरक्षित करते हैं, जबकि सिर्फ 14 फीसदी लोग अनधिकृत उपयोग से अपने फोन को बचाने के लिए उसमें फाइल और फोल्डर का कूटीकरण करते हैं. Also Read - WhatsApp ने भारत ने अपना ब्रांड अभियान ‘इट्स बिटवीन यू’ किया शुरू, जानें क्या है इसमें खास

कास्पर्सकी लैब के उत्पाद विपणन के उपाध्यक्ष, दमित्री अलेशिन ने कहा, हम सभी अपने संपर्क स्थापित करने वाले डिवाइस को पसंद करते हैं, क्योंकि उससे हमें कहीं भी और कभी भी जरूरी सूचनाएं मिलती हैं.वह कीमती वस्तु है, जिसपर अपराधी स्वाभाविक रूप से अपना हाथ साफ कर सकते हैं. यह काम तब और आसान हो जाता है, जब उसे मालूम होता है कि चोरी किया गया हर दूसरा फोन पासवर्ड से सुरक्षित नहीं है. Also Read - Top Smartphones to Launch in December 2019 : दिसंबर में लॉन्च होंगे Vivo V17, Realme XT 730G और Galaxy S10 Lite समेत ये फोन