चीनी स्मार्टफोन कंपनी Realme को एक साल पूरे हो गए हैं। अपनी स्थापना के एक साल के समय में कंपनी ने स्मार्टफोन मार्केट में काफी तेजी के साथ ग्रोथ की है। इसके अलावा रियलमी भारत के 50 शहरों में लगभग 8,000 स्टोर्स के जरिए भी अपने स्मार्टफोन लोगों तक पहुंचा रहा है। हालांकि कुछ ऑफलाइन रिटेल चेन ने रियलमी स्मार्टफोन को बेचने से इंकार भी कर दिया है, जिसका कारण कंपनी द्वारा कम मार्जिंग ऑफर करना बताया जा रहा है। इसके बावजूद रियलमी अधिक रिटेल चेन के साथ पार्टनरशिप करने की तैयारी कर रही है।

Offline मार्केट में बढ़ रही है Realme की पहुंच

ET से बात करते हुए Realme के CEO Madhav Sheth ने कहा कि कंपनी ने साउथ की एक लीडिंग रिटेल चेन Sangeetha Mobile के साथ साझेदारी की है। फिलहाल Realme की ऑफलाइन सेल कंपनी के कुल मुनाफे का 20 प्रतिशत है। अब रियलमी इस शेयर को और आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। कंपनी 50 शहरों से अपनी पहुंच को 150 शहरों और 20,000 आउटलेट्स तक बढ़ाने का प्लान कर रही है।

Realme पर China के BBK Group का स्वामित्व है, जिसके अधीन Oppo, Vivo और OnePlus भी आते हैं। Realme ने अपनी शुरुआत Oppo की सब्सिड्री के रूप में की थी और बाद में कंपनी अलग हो गई थी। जनवरी से मार्च वाले क्वॉर्टर में Realme भारतीय स्मार्टफोन मार्केट में पांचवां सबसे बड़ा स्मार्टफोन मेकर बन गया था। इतना ही नहीं, Xiaomi और Samsung के बाद कंपनी सबसे ज्यादा सेल मार्क करने के मामले में तीसरे स्थान में रही है।

कंपनी छह एक्सक्लुसिव स्टोर्स खोलने का कर रही है प्लान

कंपनी ने खुद को Realme Mobile Telecommunications के तौर पर अलग एंटाइटिटी बनाने के लिए Registrar of Companies (RoC) में आवेदन भी दिया है। कंपनी Foreign Direct Investment (FDI) के तहत अपने स्टोर्स भी खेलेगी। इसके अलावा रियलमी ने Mumbai, New Delhi, Kolkata, Bengaluru और Hyderabad में अपने छह एक्सक्लूसिव स्टोर खोलने की प्लानिंग भी की है।