दूरसंचार कंपनी Reliance Jio ने प्रतिस्पर्धी कंपनियों भारती Airtel और Vodafone-Idea  पर लैंडलाइन नंबरों को मोबाइल नंबर बताकर धोखाधड़ी करने का नया आरोप लगाया है। जियो ने भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) को पत्र लिखकर दोनों प्रतिस्पर्धी कंपनियों पर जुर्माना लगाने की मांग की है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, जियो के आरोप पर Airtel ने पलटवार करते हुए कहा कि एक नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क पर जा रहे कॉल को जोड़ने वाले शुल्क (इंटरकनेक्ट यूजेज चार्जेज) को लेकर परामर्श से पहले Jio ट्राई को बरगलाने की कोशिश कर रही है। Jio ने TRAI को लिखे पत्र में कहा है कि दोनों प्रतिस्पर्धी कंपनियां ने अपने कॉरपोरेट उपभोक्ताओं को हेल्पलाइन नंबरों के लिये दिये लैंडलाइन नंबरों को मोबाइल नंबर बताकर सरकारी खजाने को चूना लगाया है। इससे उसे भी (जियो को) सैंकड़ो करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

जियो ने कहा कि इसके साथ ही ऐसा करने से दोनों प्रतिस्पर्धी कंपनियों को गलत तरीके से कमायी हुई। कंपनी ने दोनों प्रतिस्पर्धियों के खिलाफ ट्राई से कार्रवाई करने की मांग की है। वोडाफोन आइडिया ने जियो के इस नये आरोप पर फिलहाल प्रतिक्रिया नहीं दी है।

Samsung Diwali Sale : सैमसंग की दिवाली सेल पर स्मार्टफोन्स समेत दूसरे प्रोडक्ट पर मिल रहा है धमाकेदार डिस्काउंट

 

Reliance Jio की एंट्री के साथ ही भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री में क्रांति आ गई थी। इसकी वजह थी कंपनी द्वारा दिए जानें वाले जबरदस्त टेलीकॉम प्लान। कंपनी ने अपने ग्राहकों को शुरुआत से ही बेहद कम कीमत में अनलिमिटेड डाटा और कॉलिंग सर्विस दी है। यही कारण है कि रिलायंस जियो के मार्केट में कदम रखने के साथ ही सभी टेलीकॉम कंपनियों ने डाटा और कॉलिंग की कीमत में जबरदस्त कटौती की है। हालांकि अब कंपनी ने एक नया कदम उठाया है। अरबपति उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो ने यूजर्स से किसी अन्य कंपनी के नेटवर्क पर कॉल करने पर छह पैसे प्रति मिनट की दर से शुल्क लेने की घोषणा की है। यानी अब से Jio यूजर्स को एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के नेटवर्क पर कॉल के लिए छह पैसे प्रति मिनट का चार्ज देना होगा।

बता दें कि यूजर्स के लिए यह खबर पूरी तरह से निराशाजनक नहीं होगी क्योंकि कंपनी ने घोषणा की है कि इसकी भरपाई के लिये यूजर्स को बराबर मूल्य का मुफ्त डाटा मिलेगा। इसका मतलब है यूजर्स जियो को छोड़ अन्य नेटवर्क पर जितने पैसों की बात करेंगे उन्हें उतने मुल्य का फ्री डाटा मिलेगा। ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि जियो अपने यूजर्स से वॉयस कॉल के लिए शुल्क लेगी। जियो द्वारा यह कदम उस समय उठाया गया है जबकि इस तरह के संकेत हैं कि कॉल जोड़ने का शुल्क 31 दिसंबर की पहले तय की गई समयसीमा तक समाप्त नहीं हो पाएगा।

(इनपुट पीटीआई से भी)