अमेरिका में International Computer Science Institute (ICSI) के रिसर्चर्स ने ऐसी 1,325 एंड्रॉइड ऐप्स को आइडेंटिफाई किया है जो गतल तरीके यूजर्स का डाटा हासिल कर रही हैं। ये खतरनाक ऐप्स यूजर्स की परमीशन बिना ही फोन से डाटा इक्ट्ठा कर रहे हैं, भले ही लोगों ने उन्हें डेटा हासिल करने की अनुमति दी हो या नहीं। IANS की रिपोर्ट मेें इस बात का जिक्र किया गया है।
ICSI में Usable Security And Privacy research के डायरेक्टर Serge Egelman ने Federal Trade Commission’s privacy conference में इस रिपोर्ट को पेश किया। उन्होंने कहा कि रिसर्चर्स ने इस मामले की जानकारी गूगल और FTC को सितंबर 2018 में पहले ही दे दी है।

इन ऐप्स में से एक का था Shutterfly था, जिसका इस्तेमाल फोटो की एडिटिंग के लिए किया जाता है। यह ऐप फोटो से जीपीएस को कॉर्डिनेट करके डाटा इक्ट्ठा कर अपने खुद के सर्वर में भेज रहा था। हालांकि Shutterfly ने अपने बयान में कहा कि कई फोटो सर्विस की तरह Shutterfly इस डाटा का इस्तेमाल यूजर्स का एक्सपीरियंस बढ़ाने के लिए करता है। इसमें कैटगराइजेशन और पर्सनल प्रॉडक्ट सजेशन शामिल है।

उन्होंने कहा कि हम एंड्रॉइड डेवलपर एग्रीमेंट का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं। यह स्टडी FTC website पर पब्लिश हुई है और इसमें 153 ऐप्स का नाम भी है। इनमें सैमसंग हेल्थ एंड ब्राउजर ऐप्स का भी नाम है, जिसे 50 करोड़ से ज्यादा डिवाइसों में इंस्टॉल किया जा चुका है।रिपोर्ट के मुताबिक Egelman अगस्त में Usenix Security conference में इस बारे में और अधिक विस्तृत जानकारी प्रस्तुत करेंगे।