रिलायंस जियो भारत में आज आधिकारिक तौर पर लॉन्च किया गया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने करीब 45 मिनट का भाषण दिया। लेकिन यह भाषण भारतीय टेलीकॉम दिग्गज एयरटेल और आइडिया के लिए नुकसानदेह ही रहा। Also Read - चीनी कंपनी हुवावे को टक्कर देगा रिलायंस जियो, अमेरिका में हुई 5जी तकनीक की सफल टेस्टिंग

Also Read - JioPages Web Browser: Reliance Jio लाया मेड इन इंडिया वेब ब्राउजर JioPages, सपोर्ट करता है 8 भारतीय भाषाएं

एनुअल जेनेरल मीटिंग के दौरान मुकेश अंबानी के 45 मिनट की स्पीच ने एयरटेल और आइडिय का 13,800 करोड़ का नुकसान हुआ। भारती एयरटेल, आइडिया और मुकेश के भाई अनिल अंबानी के रिलायंस कम्यूनिकेशन्स के शेयर्स इस दौरान क्रमशः 6.57 फीसदी, 9.57 फीसदी और 6.31 फीसदी लुढ़क गए। Also Read - Reliance Jio ने ग्राहकों को दिया झटका, इस प्लान की कीमत में की बढ़ोतरी

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में दर्ज सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल के शेयरों के भाव लुढ़क कर फरवरी में शेयर मार्केट में हुए गिरावट के स्तर के बिल्कुल पास 302 पर पहुंच गए जबकि तीसरी सबसे बड़ी सेल्युलर कंपनी आइडिया के शेयर नवंबर 2012 के बाद से अपने सबसे निम्न स्तर तक लुढ़क कर 83.80 तक पहुंच गया। यह भी पढ़ें: रिलायंस ने लॉन्च किये अब तक के सबसे सस्ते 4G फोन

reliance-jio-4g

अपने भाषण में गिनाई उपलब्धियां

15 हजार करोड़ रुपये के साथ जियो दुनिया का सबसे बड़ा स्टार्टअप बन गया है।

लॉन्च होने की तारीख तक ही इसके लगभग ढाई करोड़ ग्राहक बन गए हैं।

जियो का नेटवर्क 18 हजार शहरों और गावों तक पहुंच गया है।

जियो नेटवर्क न सिर्फ 4G LTE सपोर्ट करेगा बल्कि यह 5G और 6G के लिए भी तैयार है।

इसके तहत आपको अधिकतम 135Mbps की स्पीड मिलेगी।

मुकेश अंबानी ने अपने भाषण में कहा कि, ‘ हमने कभी कभार ही डेटा यूजर्स के लिए 19 रुपये से पैक शुरू किया हैं। इसके अलावा 50 रुपये प्रति जीबी के हिसाब से डेटा बेचे जाएंगे।’

उनके मुताबिक रिलायंस जियो के प्लान्स 90 फीसदी भारतीय आबादी को कवर करेगा।