Telegram App Funding: व्हाट्सऐप दुनियाभर में काफी लोगों द्वारा इस्तेमाल किया जाता है. इसमें कई बेहतरीन फीचर्स भी शामिल हैं, लेकिन कुछ ऐसे फीचर्स टेलीग्राम ऐप में हैं जो कि व्हाट्सऐप में आपको देखने को नहीं मिलेंगी. चाहे प्राइवेसी के स्तर पर हो या फिर एक सर्च इंजन की तरह टेलीग्राम का काम करना हो, ये फीचर्स व्हाट्सऐप में देखने को नहीं मिलते हैं. यही कारण है कि टेलीग्राम को काफी लोग पसंद करते हैं और व्हाट्सऐप के साथ साथ इस ऐप की डिमांड अब भी बाजार में है.Also Read - Telegram यूजर्स के लिए बड़ी खुशखबरी, अब वीडियो कॉल में एक साथ जुड़ सकेंगे 1,000 लोग

लेकिन हो सकता है कि अब टेलीग्राम यूजर्स को टेलीग्राम के इस्तेमाल के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं. अगर ऐसा होगा तो इसमें किसी प्रकार की हैरानी की बात नहीं है क्योंकि कंपनी को अब इस ऐप को चलाने के लिए पैसों की जरूरत पड़ रही है. इस कारण कंपनी अब अपने यूजर्स से इस ऐप के लिए कुछ पैसे भी चार्ज कर सकती है. Also Read - Work from home side effects: ऐप्स पर अपना वक्त बिताने में भारतीय हैं अव्वल, औसतन 4.2 घंटे बीत रहा है समय

बता दें कि टेलीग्राम भारत में काफी कम समय में पॉपुलर ऐप बन चुका है. इसमें प्राइवेसी का खास तौर पर ध्यान दिया गया है, चाहे वह चैटिंग से ही संबंधित क्यों न हो. हालांकि भारत में इस ऐप को ज्यादातर लोग वेबसीरीज, फिल्मों इत्यादि को देखने और पाने के लिए अपने फोन में रखते हैं. हालांकि अब यह ऐप कब तक फ्री में उपलब्ध रहेगा इसपर कुछ कहा नहीं जा सकता है. Also Read - TikTok, Signal, Facebook, Whatsapp सबको पीछे छोड़ नंबर वन App बना Telegram, जानिए कैसे

टेलीग्राम के संस्थापक और सीईओ Pavel Durov का कहना है कि बिजनेस को चलाते रहने के लिए उन्हें साल 2021 में रेवेन्यू जनरेट करने की आवश्यकता होगी. बता दें कि इस ऐप के दुनिया भर में 500 मिलियन एक्टिव यूजर होने वाले हैं. हालांकि अब अपने बिजनेस को बनाए रखने के लिए कंपनी को पैसों की जरूरत आन पड़ी है. ऐसे में कंपनी द्वारा ग्राहकों से ऐप के इस्तेमाल पर कुछ चार्ज वसूला जा सकता है.