नई दिल्ली: असम के दो युवा इंजीनियर गुवाहाटी और इसके आस-पास के इलाकों के साथ- साथ पूर्वोत्तर क्षेत्र के अन्य शहरों की पार्किंग की समस्या को दूर करने के लिए एक मोबाइल एप तैयार कर रहे हैं.इस एप के सह – संस्थापक त्रिदीब कोंवर ने बताया कि एप ‘पार्किंग राइनो’ की योजना राज्य की राजधानी और असम के अन्य शहरों जैसे जोरहट, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया और तेजपुर में सड़कों पर तथा अन्य स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था को बेहतर बनाने की है.

इस स्टार्टअप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कोंवर ने बताया कि उन्होंने इसके लिए मार्केट रिसर्च शुरू कर दिया है और अन्य पूर्वोत्तर राज्यों से भी आंकड़े जुटा रहे हैं.उनकी योजना इस एप के जरिए 400 से अधिक पार्किंग स्थानों को डिजिटल करने की है. बेंगलुरु में पार्किंग की समस्या का सामना करने वाले कोंवर और उनकी सहयोगी इंजीनियर मृगांका डेका ने इस एप को 2016 में लॉन्च किया था लेकिन अब उनका ध्यान पूर्वोंत्तर राज्यों की ओर है क्योंकि पिछले साल ‘आइडिएशन प्रोग्राम के जरिए उन्हें इस पर काम करने के लिए धन मिल गया था.

असम के नुमालीगढ़ रिफाइनरी लिमिटेड ने पिछले साल स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए ‘आइडिएशन प्रोग्राम शुरू किया था. कोंवर ने कहा कि हमने गुवाहाटी नगर निगम के गुवाहाटी-शिलांग सड़क और असम राज्य चिड़ियाघर के पार्किंग स्थानों के लिए स्मार्ट तकनीक बनाई.अगर सब कुछ ठीक रहा तो हम तीन महीने में 50 से ज्यादा पार्किंग स्थानों पर एप के माध्यम से लोगों को सुविधाएं देने लगेंगे.