गुजरात में Tik Tok पर वीडियो बनाने और पोस्ट करने के बाद मेहसाणा जिले के लांघणज गांव के पुलिस स्टेशन में तैनात महिला पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया है।  सोशल मीडिया यूजर्स ने निलंबन के आदेश पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है।  सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में लोक रक्षक दल (एलआरडी) की रंगरूट अर्पिता चौधरी को लॉकअप के सामने डांस करते हुए देखा जा सकता है।

गुजरात की लोकल न्यूज वेबसाइसट देशगुजरात के हवाले से समाचार एजेंसी आईएएनएस हिंदी ने यह जानकारी दी है। गुजरात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि उत्तरी गुजरात के लांघणज पुलिस स्टेशन में तैनात महिला पुलिसकर्मी को निलंबित करने के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने आगे कहा, “ड्यूटी पर वर्दी नहीं पहनने और अनुशासित विभाग की एक कर्मचारी होने के बावजूद, पुलिस लॉकअप के पास डांस का वीडियो बनाने के लिए कार्रवाई की गई है।”

अर्पिता पर की गई कार्रवाई पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए सोशल मीडिया यूजर्स ने लिखा कि उन्हें वीडियो बनाने के चलते निलंबित करना ठीक नहीं है।  एक यूजर ने लिखा, “Tik Tok पर मैंने अभी एक पुलिसकर्मी अर्पिता चौधरी का वीडियो देखा। वह लॉकअप के पास सादे कपड़ों में बहुत ही सुंदर डांस कर रही थीं, इसमें क्या गलत है। क्या पुलिस को हमेशा गंभीर ही रहना होगा?”

दूसरे यूजर ने लिखा, “उनके खिलाफ कार्रवाई बहुत ज्यादा बड़ी बात हो गई है। अपने खाली वक्त का आनंद लेने का उन्हें भी अधिकार है। उन्होंने किसी की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाई है। यह बस मौज-मस्ती के लिए था। इतनी प्रतिभाशाली होने के लिए तो गुजरात पुलिस को उन पर गर्व होना चाहिए।” एक अन्य यूजर ने तो उन्हें ‘लेडी दबंग’ करार दिया। बता दें कि Tik Tok एक वीडियो शेयरिंग सोशल मीडिया ऐप है, जिसमें यूजर्स को बॉलीवुड के गाने और डायलॉग पर अपनी वीडियो बनाकर शेयर करते हैं। ये ऐप भारत में तेजी से लोकप्रिय हो रही है।

(इनपुट आईएएनएस हिंदी से)