देश और दुनिया की सबसे पॉप्युलर मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने अपने लेटेस्ट बीटा में एक नए अपडेट को रिलीज किया है। इस अपडेट में “WhatsApp from Facebook” टैग को जोड़ा गया है।  यह अपडेट ऐसे समय पर रिलीज किया गया है जब एक हफ्ते से भी कम समय में व्हाट्सएप के स्वामित्व वाले फेसबुक ने एंड्रॉइड बीटा यूजर्स के लिए फिंगरप्रिंट लॉक फीचर को रोलआउट किया था।
MSPoweruser की रिपोर्यट के मुताबिक यह नया टैग WhatsApp की सेटिंग में देखा जा सकता है। भले ही फेसबुक ने अभी इस ऐप को अलग रखा है लेकिन अभी भी कंपनी ने अपरने यूनिफाइड प्लेटफॉर्म कते सपने को नहीं छोड़ा है।

सोशल नेटवर्किंग जाइंट फेसबुक ने व्हाट्सएप को फरवरी 2014 में खरीदा था। व्हाट्सएप लगातार अपने ऐप में नए फीचर्स को जोड़ता रहता है और यह उसी स्ट्रैटजी का हिस्सा है। इससे पहले व्हाट्सऐप ने फिंगरप्रिंट लॉक फीचर को रोलआउट किया था, जिससे यूजर्स अपने स्मार्टफोन के फिंगरप्रिंट स्कैनर का इस्तेमाल अपने व्हाट्सऐप को सिक्योर करने के लिए भी कर सकते हैं। इस अपडेट को पहले ही आईओएस यूजर्स के लिए दे दिया गया था। अब इसे एंड्रॉइड बीटा टेस्टर्स के लिए उपलब्ध करवाया गया है।
 फिलहाल WhatsApp के बीटा वर्जन इस्तेमाल करने वाले एंड्रॉइड यूजर्स इस फीचर को अपडेट करने के बाद यूज कर पाएंगे। यूजर्स को अकाउंट प्राइवेसी सेक्शन में नया ‘ऑथेंटिकेशन’ ऑप्शन मिलेगा। यूजर्स को इस ऑप्शन पर टैप करना होगा इसके बाद उन्हें स्मार्टफोन में पहले से रजिस्टर्ड फिंगरप्रिंट को वेरिफाइ करना होगा। iOS यूजर्स के लिए कंपनी ने ऑथेंटिकेशन फीचर नाम से लॉन्च किया है। इसकी मदद से iOS यूजर्स टच और फेस आईडी की मदद से ऐप को अनलॉक और लॉक कर पाते हैं।

इसके बाद ये फीचर एक्टिवेट हो जाएगा और फिर हर बार WhatsApp ऐप ओपन करने से पहले यूजर्स को फिंगरप्रिंट की जरूर होगी। फिलहाल स्मार्टफोन यूजर्स इसके लिए थर्ड पार्टी ऐप का इस्तेमाल करते हैं। वहीं कुछ स्मार्टफोन ब्रांड में पहले से ऐप लॉक फीचर दिया गया है।